February 11, 2019 12:19:44

80-90 के दशक के रेगुलर विलेन थे महेश आनंद, जिनका नाम आज की जेनरेशन ने सिर्फ़ न्यूज़ में सुना

by Akanksha Tiwari

परबीन बॉबी, स्मिता पाटिल, मीना कुमारी, गैविन पैकर्ड और एके हंगल, इन सभी कलाकारों ने बॉलीवुड में अपने करियर की सफ़ल पारी खेली और दर्शकों के दिलों में जगह बना कर ख़ूब नाम भी कमाया. बस अफ़सोस इस बात का है कि अपनी ज़िंदगी के आख़िरी दिनों में ये सभी लोग अकेले और तन्हा थे, जिस वजह इनकी मौत भी आकस्मिक और दर्दभरी थी. अब ऐसे ही गुमनाम मौतों में एक और नाम शामिल हो गया, जिसके बारे में अब तक बहुत ही कम लोगों को पता है.

Source: Indianexpress

बॉलीवुड लोगों को नाम, पैसा और शोहरत सब देता है, लेकिन बस इसे ज़िंदगीभर संभाल कर रखना कुछ ही लोगों को आता है. ये कहानी है बॉलीवुड के उस विलेन की, जिसने 80 से 90 दशक तक फ़िल्मों में अभिनय कर करोड़ों लोगों के दिलों पर राज किया.

Source: Patrika

'महेश आनंद'

यही वो नाम है, जो अपनी गुमनाम मौत की वजह से सुर्ख़ियो में है. बीते दिनों बॉलीवुड के इस फ़ेमस विलेन की लाश मुंबई यारी रोड स्थित उसके घर से पाई गई. पुलिस को मौत की सूचना पड़ोसियों द्वारा मिली थी. वहीं मेडिकल रिपोर्ट में महेश की मौत की वजह कार्डिएक अरेस्ट बताई गई.

Source: India.Com

कौन थे महेश आनंद?

80-90 के दशक के बीच महेश आनंद ने शहंशाह, मजबूर, स्वर्ग, थानेदार, विश्वात्मा, गुमराह, खुद्दार, बेताज बादशाह, विजेता और कुरुक्षेत्र जैसी कई सुपरहिट फ़िल्मों में दमदार अभनिय कर खू़ब नाम कमाया. विलेन का रोल निभाने के बावजूद उस समय सिर्फ़ आम लड़कियां ही नहीं, बल्कि कई बड़ी-बड़ी अभिनेत्रियां भी उनकी फ़ैन थी. वहीं पर्याप्त सुरक्षा उपकरण न होने के बावजूद उस समय महेश बहुत सारे ख़तरनाक स्टंट ख़ुद करते थे. इसके साथ ही वो ताइक्वांडो में ब्लैक बेल्ट भी हासिल कर चुके थे. कहा जाता है कि फ़िल्मों में आने से पहले वो प्रोफे़शनल्स फ़ाइट्स में भी हिस्सा लेते थे. अभिनेता होने के साथ-साथ वो एक अच्छे डांसर और प्रोड्यूसर भी थे.

Source: Aaj Tak

5 बार की थी शादी, फिर भी ताउम्र अकेले रहे

अभिनेता की पांच शादियां हुई थी, लेकिन सफ़ल एक भी नहीं रही. महेश की पहली शादी अभिनेत्री रीना रॉय की बहन और प्रोड्यूसर बरखा रॉय से हुई, लेकिन ये शादी कामयाब नहीं हुई और 1987 में उन्होंने मिस इंडिया इंटरनेशनल एरिका मारिया डिसूज़ा से शादी कर घर बसा लिया, जिससे उन्हें त्रिशूल आनंद नाम का एक बेटा भी हुआ. इसके बाद 1992 में एक्ट्रेस मधु मल्होत्रा से महेश आनंद की तीसरी पत्नी बनी. करीब 8 साल तक साथ रहने के बाद मधु और आनंद अलग हो गये, जिसके बाद 2000 में उन्होंने चौथी शादी एक्ट्रेस ऊषा बचानी से की. ये शादी भी महज़ 2 साल चली और उसके बाद दोनों का तलाक हो गया. वहीं अपनी आख़िरी शादी का ज़िक्र महेश ने एक महिला के फ़ेसबुक पर फ़ोटो शेयर किया था.

Source: Theindependentbd

आर्थिक स्थित और शराब की लत ने किया बर्बाद!

बेहतरीन अभिनय के बावजूद महेश को 18 साल तक साल फ़िल्म इंडस्ट्री में कोई काम नहीं मिला, जिस वजह से वो आर्थिक तंगी और डिप्रेशन से गुज़र रहे थे. अभिनेता शक्ति कपूर की मानें, तो उन्हें शराब की लत थी. यही नहीं, अक्सर वो नशे की हालात में लोगों को फ़ोन मिला दिया करते थे. महेश के पास पैसों की इतनी तंगी थी कि कहीं जाने के लिये उनके पास किराये तक के पैसे नहीं होते थे. एक इंटरव्यू के दौरान महेश आनंद ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि गोविंदा स्टारर फ़िल्म 'रंगीला राजा' के लिये पहलाज ने उन्हें फ़ोन कर कहा कि मूवी लगभग पूरी हो चुकी है, लेकिन उनके लिये एक 6 मिनट का रोल है. इस तरह से महेश को 18 साल बाद फ़िल्मों में दिखने का मौका मिला.

Source: Twimg

अफ़सोस है इस बात कि जो अभिनेता कभी अपने काम की वजह से चर्चा में था, आज चारों ओर उसकी मौत का ज़िक्र है.

 

 

More from ScoopWhoop Hindi