मां की ममता को हम शब्दों में व्यक्त नहीं कर सकते हैं. इसके लिए शब्द कम पड़ जाते हैं. एक ऐसी ही मां की ममता की कहानी कानपुर की है. लेकिन, इस बार कोई मनुष्य की नहीं, बल्कि दो अलग-अलग जानवरों की है.

दरअसल जब बकरी के एक बच्चे को उसकी असली मां ने दूध पिलाने से मना कर दिया तो दूसरी मां उसे दूध पिला कर उसका लालन-पोषण कर रही है. हैरान कर देने वाली बात ये है कि वो मां एक बकरी नहीं बल्कि एक कुतिया है.

दरअसल, कुतिया के बच्चे मर चुके हैं जिसकी वजह से उसे मातृत्व का सुख नहीं मिल पाया.अपनी इस कमी को पूरा करने के लिए कुतिया बकरी के बच्चे को बिना किसी झिझक के दूध पिलाती है.

Story Published on amarujala