भारत में एक से बढ़कर एक कवि, लेखक और उपन्यासकार हुये हैं, लेकिन लोगों की रग-रग में बस जाने का काम तो सिर्फ़ एक शायर ही कर सकता है. मिर्ज़ा ग़ालिब से लेकर राहत इंदौरी तक देश में ऐसे कई मशहूर शायर हुए हैं, जिनकी शायरियों की कोई न कोई पंक्ति अक्सर हम यार दोस्तों के बीच अपने मुख द्वार से गुनगुनाते रहते हैं. यहां तक कि हम प्रेम का इज़ाहर करते हुए भी कविताएँ या शेर भेज देते हैं, लेकिन हम ये भूल जाते हैं कि जिन शायरों की शायरी हम अपनी ख़ुद की लिखी शायरी बोलकर तारीफ़ पाने की कोशिश में लगे रहते हैं. जानते हो वो असल में कैसे दिखते हैं? 

तो चलिए आज हम आपको देश के कुछ ऐसे शायरों की तस्वीरों (Famous Indian Shayar Photo's) से भी रूबरू करा देते हैं जिनकी हमने केवल शायरियां पढ़ी हैं-

1- मिर्ज़ा ग़ालिब  

हाथों की लकीरों पे मत जा ऐ 'ग़ालिब',

नसीब उनके भी होते हैं जिनके हाथ नहीं होते.

Mirza Ghalib
Source: indianexpress

ये भी पढ़ें- तस्वीरों में देखिए भारत के 13 प्रसिद्ध कवियों को, जिनका हम सिर्फ़ नाम ही सुनते आ रहे हैं

2- निदा फ़ाज़ली

होशवालों को ख़बर क्या बेख़ुदी क्या चीज़ है,

इश्क कीजिये फिर समझिये ज़िंदगी क्या चीज़ है. 

Nida Fazli
Source: thequint

3- राहत इंदौरी  

लोग हर मोड़ पे रुक-रुक के संभलते क्यों हैं

इतना डरते हैं तो फिर घर से निकले क्यों हैं,
मैं ना जुगनू हूं ना दीया हूं ना कोई तारा हूं
रोशनी वाले मेरे नाम से जलते क्यों हैं.

Rahat Indori
Source: indiatoday

4- फ़िराक़ गोरखपुरी

आये थे हंसते खेलते मैख़ाने में 'फ़िराक़',

जब पी चुके शराब तो संजीदा हो गये.

Firaq Gorakhpuri
Source: tribuneindia

5- बशीर बद्र

उजाले अपनी यादों के

हमारे साथ रहने दो,
न जाने किस गली में
ज़िंदगी की शाम हो जाए.

Bashir Badr
Source: poetistic

6- मुनव्वर राणा 

किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकान आई,

मैं सबसे छोटा था घर में मेरे हिस्से में मां आई. 

Munawwar Rana
Source: youtube

Famous Indian Shayar Photo's

7- वसीम बरेलवी

तुझे पाने की कोशिश में

कुछ इतना खो चुका हूं मैं,
कि तू मिल भी अगर जाए तो
अब मिलने का गम होगा. 

Waseem Barelvi
Source: youtube

8- साहिर लुधियानवी

कभी ख़ुद पे कभी हालात पे

         रोना आया
बात निकली तो हर एक बात पे
         रोना आया. 

Sahir Ludhianvi
Source: filmcompanion

9- मजरूह सुल्तानपुरी  

कोई हम दम न रहा

कोई सहारा न रहा,
हम किसी के न रहे
कोई हमारा न रहा. 

 Majrooh Sultanpuri
Source: bollywoodhungama

Famous Indian Shayar Photo's

10- अकबर इलाहाबादी 

आह जो दिल से निकाली जाएगी,

क्या समझते हो कि ख़ाली जाएगी.

Akbar Allahabadi
Source: indiatimes

तोड़ा कुछ इस अदा से

ताल्लुक़ उसने 'ग़ालिब', 
कि सारी उम्र अपना क़सूर ढूंढते रहे - मिर्ज़ा ग़ालिब