Indian Monuments Built By Women: भारत अपने इतिहास और प्राचीन संस्कृति के लिए दुनियाभर में मशहूर है. दुनिया भर से हर लाखों पर्यटक भारत भ्रमण पर आते हैं. इस दौरन विदेशी मेहमान हमारे देश की विभिद्धता को देख हैरान रह जाते हैं. भारत में आज भी कई ऐसी ऐतिहासिक धरोहरें मौजूद हैं जिन्हें देखने भर से ही दिल को सुकून मिलता है. सैकड़ों साल पुराने इन स्मारकों के दीदार के लिए प्रतिदिन हज़ारों पर्यटक आते हैं. आप इन ऐतिहासिक स्मारकों के दर्शन कई बार कर चुके होंगे, लेकिन क्या आपने कभी ये जानने की कोशिश की कि आख़िर ये बनाए किसने थे. नहीं न!

Indian Monuments Built By Women
Source: india

ये भी पढ़िए: रात में भारत की इन 20 ऐतिहासिक धरोहरों की ख़ूबसूरती देख कर विस्मित हो जाओगे

आज हम आपको भारतीय इतिहास की कुछ ऐसी महिलाओं के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने हमें कई शानदार ऐतिहासिक स्मारक दिए हैं. आज उनकी बदौलत ही हम इनका दीदार कर पा रहे हैं.

1- हुमायूं का मक़बरा (दिल्ली) 

दिल्ली में सबसे प्रसिद्ध स्मारकों में से मुगल सम्राट 'हुमायूं का मक़बरा' हुमायूं की मौत के बाद उनकी पत्नी हमीदा बानो बेगम या हाजी बेग़म (Hamida Banu Begum) द्वारा बनवाया गया था. मुगल वास्तुकला का जीगता जागता नमूना इस मक़बरे का निर्माण सन 1569 में मक़बरे का निर्माण किया गया था.

Hamida Banu Begum
Source: medium

Famous Indian Monuments Built By Women in History

2- विरुपाक्ष मंदिर (कर्नाटक)

कर्नाटक के बागलकोट ज़िले में स्थित 'विरुपाक्ष मंदिर' पट्टाडकल के प्रमुख ऐतिहासिक स्मारकों में से एक है. भगवान शिव को समर्पित इस मंदिर का निर्माण 8वीं शताब्दी में रानी लोकमहादेवी (Queen Lokamahadevi) ने पल्लवों पर अपने पति विक्रमादित्य द्वितीय की जीत के उपलक्ष्य में किया था.

Queen Lokamahadevi
Source: indiathedestiny

3- एत्माद-उद-दौला (आगरा) 

आगरा केवल 'ताजमहल' के लिए ही नहीं, बल्कि 'लालक़िला', 'फ़तेहपुर सीकरी' और 'एत्माद-उद-दौला का मक़बरा' के लिए भी मशहूर है. इसे 'बेबी ताजमहल' के तौर पर भी जाना जाता है. एत्माद-उद-दौला का मक़बरा सन 1622 से 1628 के बीच नूरजहां (Nur Jahan) द्वारा अपने पिता मिर्ज़ा गयास बेग की याद में बनवाया गया था.

Nur Jahan
Source: klook

Indian Monuments Built By Women

4- रानी की वाव (गुजरात)

गुजरात के पाटन में स्थित 'रानी की वाव' मारू-गुजरा शैली की वास्तुकला का एक अद्भुत नमूना है. सरस्वती नदी के तट पर स्थित इस स्मारक को एक उल्टे मंदिर के रूप में डिज़ाइन किया गया है और इसे सात स्तरों में विभाजित किया गया है जिसमें जटिल मूर्तियां हैं. इसका निर्माण 11वीं शताब्दी में रानी उदयमती (Rani Udaymati) ने अपने पति और सोलंकी वंश के राजा भीम प्रथम की याद में किया था.

Rani Udaymati
Source: wikidata

Indian Monuments Built By Women

5- मिरजान क़िला (कर्नाटक)  

कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ ज़िले में अघनाशिनी नदी के तट पर स्थित ये क़िला अपनी उल्लेखनीय स्थापत्य सुंदरता के लिए दुनियाभर में मशहूर है. ये अतीत में कई लड़ाइयों का गवाह रहा है. इस ऐतिहासिक स्मारक का निर्माण गेरसोप्पा की रानी चेन्नाभैरदेवी (Queen Chennabhairadevi) द्वारा किया गया था, जिसे 16वीं शताब्दी में भारत की काली मिर्च रानी के रूप में भी जाना जाता था.

Queen Chennabhairadevi
Source: enidhi

Indian Monuments Built By Women

6- लाल दरवाज़ा मस्जिद (जौनपुर) 

उत्तर प्रदेश के जौनपुर ज़िले के में स्थित ये ऐतिहासिक मस्जिद सन 1447 में सुल्तान महमूद शर्की की रानी राजे बीबी (Rajye Bibi) द्वारा बनाई गई थी. ये संत सैय्यद अली दाऊद कुतुबुद्दीन को समर्पित थी. हालांकि, 'लाल दरवाज़ा मस्जिद' की डिज़ाइन और स्थापत्य शैली 'अटाला मस्जिद' से मिलती-जुलती है.

Rajye Bibi
Source: indiatimes

7- ख़ैर अल-मनाज़िल (दिल्ली) 

दिल्ली में स्थित इस ऐतिहासिक मस्जिद का निर्माण सन 1561 में महम आगा (Maham Anga) द्वारा किया गया था, जो मुग़ल सम्राट अकबर की नर्सों में से एक और उनके दरबार की सबसे प्रभावशाली महिला भी थी. ये मस्जिद मुगल वास्तुकला का एक बेहतरीन नमूना है.

Maham Anga
Source: dnaindia

ये भी पढ़िए: ताजमहल से लेकर लाल क़िले के बारे में हर कोई जानता है, इनके आर्किटेक्ट कौन थे ये जानते हैं आप?

आपको इनमें से सबसे ख़ूबसूरत ऐतिहासिक स्मारक (Indian Monuments Built By Women) कौन सा लगा?