#JagFirSeJagmag: कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को 2 साल तक ख़ूब रुलाया, लेकिन अब बारी ख़ुशियों की है. दिवाली क़रीब है ऐसे में हर कोई इस त्यौहार को ख़ास बनाने में जुटा हुआ है. कोई 2 साल बाद घरवालों के साथ दिवाली मनाने को लेकर उत्साहित है, तो कोई ढेर सारी शॉपिंग करके ख़ुश है. इस दिवाली आप बेझिजक बाहर जा सकते हैं, शॉपिंग कर सकते हैं, दोस्तों से खुलकर मिल सकते हैं, देर रात तक सड़कों पर भी घूम सकते हैं. कोरोना महामारी के घटते असर के चलते इस दिवाली हमें किसी भी तरह की गाइडलाइन्स का पालन भी नहीं करना पड़ेगा. लेकिन अब भी कई चीज़ें ऐसी हैं जो दिवाली के मौके पर #JagFirSeJagmag बनाने और हमें ख़ुशियां देने के लिए काफ़ी हैं. भारतीय-त्यौहार (Indian Festival). 

इस साल दिवाली के मौके पर देश की आम जनता को भी कुछ ऐसी चीज़ों की सख़्त ज़रूरत है जिनकी वजह से #JagFirSeJagmag बन सकता है.

1- देश के युवाओं को रोज़गार

साल 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने देश के युवाओं को हर साल 1 करोड़ नौकरी देने की बात कही थी. लेकिन पिछले 8 सालों में देश के युवाओं कुल 1 करोड़ सरकारी नौकरी भी नहीं मिल पाई हैं. साल 2022 की दिवाली के मौके पर #JagFirSeJagmag बनाने के लिए केंद्र सरकार युवाओं को अधिक से अधिक सरकारी नौकरियां दे.

Indianexpress

ये भी पढ़ें: Scoopwhoop Hindi का नया Campaign #JagFirSeJagmag, जानिए क्या है ख़ास

2- Petrol, Diesel और CNG के दाम कम

देश में महंगाई का सबसे बड़ा कारण Petrol, Diesel और CNG की क़ीमतों में की गई बढ़ोतरी है. इसकी वजह से ही देश में खाने-पीने की चीज़ों से लेकर बिजली, पानी, सड़क, हेल्थ, एज्युकेशन सब कुछ महंगा हो रहा है. जबकि इंटरनेशनल मार्किट में कच्चे तेल की क़ीमतें जितनी पहले थीं उतनी ही हैं. बावजूद इसके भारत में पेट्रोल-डीज़ल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं. इस दिवाली #JagFirSeJagmag बनाने के लिए सरकार को इनकी क़ीमतें कम करनी होंगी.

News18

3- स्ट्रीट वेंडर्स को कमाई करने का मौका दें

दिल्ली, नोएडा, गाज़ियाबाद, गुरुग्राम समेत देश के कई शहरों की मेन मार्किट में स्ट्रीट वेंडर्स पर बैन लगा दिया गया है. इस साल ‘नवरात्र’ से लेकर ‘छठ पूजा’ तक लोगों को ज़रूरी सामन की खरीदारी के लिए काफ़ी मशक्क़त करनी पड़ रही है. हमारी प्रशासन से विनती है कि इस दिवाली #JagFirSeJagmag करने के लिए न केवल इन ग़रीब स्ट्रीट वेंडर्स को कमाई करने का मौका दें, बल्कि लोगों को हो रही असुविधा का समाधान भी करें.

campaignsoftheworld

4- टीवी चैनलों से हिंदू-मुस्लिम डिबेट बैन

आज अगर देश का माहौल ख़राब हो रहा है तो इसके पीछे सिर्फ़ और सिर्फ़ देश की राजनीतिक पार्टियां और देश का मीडिया है. टीवी चैनलों पर आये दिन हिंदू-मुस्लिम डिबेट होती रहती हैं. इससे दिन-ब-दिन देश का माहौल ख़राब हो रहा है अगर इस दिवाली #JagFirSeJagmag देखना चाहते हैं तो टीवी चैनलों पर प्रसारित होने वाली ‘हिंदू-मुस्लिम डिबेट’ बैन होनी चाहिए.  

sabrangindia

5- गुटखा- तम्बाकू और बीड़ी-सिगरेट के विज्ञापन बंद

देशवासियों की शाहरुख़ खान, अजय देवगन, अक्षय कुमार, अमिताभ बच्चन और रणवीर सिंह समेत सभी सेलेब्रिटीज़ से रिक़्वेस्ट है कि वो विमल, रजनीगंधा, कमलापसंद, पान विलास, पान बहार के विज्ञापनों को बढ़ावा न दें. इससे देश का यूथ भटक रहा है और ये सेहत के लिए बेहद हानिकारक भी हैं. अगर इस दिवाली #JagFirSeJagmag करना चाहते हैं तो सरकार इन प्रोडक्ट्स के विज्ञापनों पर बैन लगाए.

ये भी पढ़ें: वो 10 Items जिन्हें आप ‘धनतेरस’ के मौके पर घर बैठे Amazon से ख़रीद सकते हैं

6- सोशल मीडिया का ग़लत इस्तेमाल

सोशल मीडिया आज इंसान की मज़बूरी बन चुका है. अगर इसका सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो ये हमारे लिए बेहद फ़ायदेमंद साबित होता है, सोशल मीडिया न केवल अनजान लोगों से मिलने का ज़रिया है, बल्कि ये कई तरह की सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए भी है. लेकिन आज इसके दुरुपयोग से हमें नुक्सान भी झेलने पड़ रहे हैं. इसलिए सभी सोशल मीडिया यूज़र्स से विनती है कि वो इस ख़ूबसूरत माध्यम का सही उपयोग करें और इस दिवाली #JagFirSeJagmag करें.

Magnoliarealty

7- सभी जेंडर्स को सम्मान मिले

भारत में केवल महिलाएं ही नहीं, बल्कि LGBTQ को भी कई तरह की परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं. भारतीय समाज आज भी पश्चिमी देशों के जितना तरक्की नहीं कर पाया है. हमारे देश में आज भी पुरुष और महिलाएं ही सर्वोपरि हैं, उन्हें ही सम्मान की नज़रों से देखा जाता है. अगर कोई ये कह दे कि वो Lesbian, Gay, Bisexual और Transgender है तो लोग उनसे भेदभाव करते हैं. भगवान ने हर किसी को अलग-अलग रूप में बनाया है. इसलिए इस दिवाली #JagFirSeJagmag बनाने के लिए हमें हर किसी का सम्मान करना होगा. 

Thehindu

8- शोषण क्यों… कर्मचारी हैं गधे नहीं

पिछले 2 सालों में दुनियाभर में वर्क कल्चर पूरी तरह से बदल चुका है. कोरोना वायरस के चलते अधिकतर कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को Work From Home की सुविधा दे रखी है. लेकिन इस ‘वर्क फ़्रॉम होम’ के बदले कई कंपनियों द्वारा कर्मचारियों का शोषण भी किया जा रहा है. कर्मचारियों से 8 घंटे के बजाय 10 से 12 घंटे तक काम कराया जा रहा है. अगर इतने लम्बे समय कोई काम करने से मना कर रहा है तो उसे नौकरी से निकाल देने की धमकी दी जाती है. 

9- Dear Bollywood… यार एक अच्छी फ़िल्म तो बना दो  

भारत में सिनेमा न हो तो सोचिये इंसान की ज़िंदगी कैसे होगी! पिछले कुछ सालों से हमें ऐसा ही फ़ील हो रहा है. बॉलीवुड में अच्छे कॉन्टेंट का अकाल पड़ा हुआ है और हमें हॉलीवुड और टॉलीवुड से प्यार होने लगा है. लेकिन दिल तो एकदम देसी है भईया. भला हमारा बॉलीवुड प्रेम कैसे कम हो सकता है. अब तो बस बॉलीवुड से हमारी एक ही विनती है यार कम से कम साल में 1 फ़िल्म तो अच्छी बना दो ताकि ये #JagFirSeJagmag हो सके. 

Indiaeinfo

10- आइकॉनिक गानों के Remix पर बैन

हम भारतीयों के लिए Music बेहद मायने रखता है. आज भी अधिकतर लोगों को अच्छा और सोलफुल म्यूज़िक बेहद पसंद होता है. इस मामले में 70s, 80s और 90s का म्यूज़िक शानदार था, लेकिन आज जिस तरह से पुराने गानों का Remix बनाकर इन्हें बिगाड़ा जा रहा है, उससे तो हमारा Music से ही विश्वास उठ गया है. रिमिक्स किंग तनिष्क बागची और रिमिक्स क़्वीन नेहा कक्कड़ से हाथ जोड़कर विनती है कि प्लीज़ हिन्दुस्तान के म्यूज़िक को ख़राब मत करो. 

Republicworld

आपकी नज़र में वो कौन-कौन सी बातें हैं जिनकी हमें इस दिवाली भारतीय त्यौहार (Indian Festival)सख़्त ज़रूरत है.

ये भी पढ़ें: 1000 रुपये के अंदर आने वो 10 Best Diwali Gift Items जो आपके अपनों के चेहरे पर मुस्कान ला देंगे