Indian Army (भारतीय सेना) में युद्ध के मैदान पर और शांति के दौरान वीरता से देश की रक्षा करने वाले सैनिकों को वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है. परमवीर च्रक भारत का सर्वोच्च सैन्य सम्मान है. इसे अधिकतर मरणोपरांत दिया जाता है. ये मेडल सैनिकों को असाधारण वीरता शूरता और बलिदान के लिए दिया जाता है.

मगर क्या आप जानते हैं भारतीय सेना के इस सर्वोच्च सैन्य मेडल को किसने डिज़ाइ किया था और इसका स्विट्ज़रलैंड से क्या नाता है? नहीं चलिए आज इसकी कहानी भी आपको बता देते हैं.

ये भी पढ़ें: भारतीय सेना में होते हैं ये रैंक, तो पढ़ लो और सेना के बारे में ज्ञान बढ़ा लो

इन्होंने डिज़ाइन किया है परमवीर चक्र  

savitri khanolkar
Source: hrdots

परमवीर चक्र(Param Vir Chakra) का डिज़ाइन एक विदेशी महिला ने तैयार किया था, जिन्हें आप सावित्री खानोलकर के नाम से जानते हैं. इनका असली नाम Eve Yvonne Maday de Maros था, वो स्विट्ज़रलैंड की नागरिक थीं. उनके पिता एक लाइब्रेरियन थे. Eve को बचपन से ही पढ़ने लिखने का शौक़ था. क़िताबों के ज़रिये उन्हें भारत के बारे में पता चला और वो भारत और भारतीय संस्कृति से प्रेम करने लगी.

ये भी पढ़ें: भारतीय सेना की आन-बान-शान हैं ये 20 वाहन, दुश्मन के छक्के छुड़ाने में करते हैं मदद

आज़ादी के बाद नए वीरता पदैक तैयार किए गए थे

savitri khanolkar
Source: zeenews

1929 में स्वट्ज़रलैंड में टर्म ब्रेक पर भारतीय सेना अधिकारी कैप्‍टन विक्रम खानोलकर गए हुए थे. यही उकी मुलाकात Eve से हुई थी. दोनों में दोस्ती हुई और बात शादी तक पहुंच गई. शादी के बाद Eve ने अपना नाम बदलकर सावित्री बाई खानोलकर रख लिया. यहां उन्होंने भारतीय संस्कृति को समझा और इसी विषय में नालंदा यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की. आज़ादी के बाद प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने जर जनरल हीरा लाल अटल को नए वीरता पदक तैयार करने को कहा. ऐसे पदक जिनमें भारतीय संस्कृति की झलक दिखाई देती हो.

  param vir chakra
Source: Indian Defence Review

चूंकि वो कैप्‍टन विक्रम खानोलकर की पत्नी और भारतीय संस्कृति को लेकर उनके ज्ञान से भली-भांति परिचित थे तो उन्होंने ये काम सावित्री खानोलकर को सौंप दिया. उन्होंने दिल से इस पर काम किया और लगभग एक महीने की कड़ी मेहनत के बाद परवीर चक्र का डिज़ाइन तैयार किया. परमवीर चक्र को 3.5 सेंटीमीटर व्‍यास वाले कांस्‍य धातु की गोल आकृति में तैयार किया गया.   

किसे मिला था पहला परमवीर चक्र?

first param vir chakra
Source: mapsofindia

इसमें चारों तरफ इंद्र का वज्र के 4 चिन्ह थे और बीच में सम्राट अशोक की लाट. इसके दूसरी हिंदी-इंग्लिश में परमवीर चक्र लिखा हुआ है. परमवीर चक्र को बैंगनी रंग के रिबन के साथ पहनाया जाता है. अब तक 21 लोगों को ये सम्मान मिल चुका है. 26 जनवरी 1950 को भारत के पहले गणतंत्र दिवस पर इसे पेश किया गया था. पहला परमवीर चक्र 1947-48 के भारत-पाक युद्ध के दौरान बहादुरी से लड़कर शहीद हुए मेजर सोमनाथ शर्मा को दिया गया था.   

savitri khanolkar
Source: wordpress

परमवीर चक्र के अलावा सावित्री बाई ने अशोक चक्र, महावीर चक्र, कीर्ति चक्र, वीर चक्र और शौर्य चक्र का भी डिज़ाइन तैयार किया है.  

परमवीर चक्र से जुड़ा ये फ़ैक्ट आपको पहले पता था?