कुमाऊं रेजिमेंट: 'परमवीर चक्र' विजेता पहली भारतीय रेजिमेंट, जिसके शौर्य के आगे कोई टिक नहीं सका