74 वर्षीय अर्जेंटीनियन कलाकार Marta Miniujin ने ग्रीस की प्रसिद्ध इमारत Parthenon का प्रतिरूप बनाया है. इसे बनाने के लिए उन्होंने 1,00,000 ऐसे किताबों का इस्तेमाल किया है, जो प्रतिबंधित हैं. Marta ने ऐसा राजनीतिक दबाव का विरोध करने के लिए किया.

जर्मनी के कासेल में बना The Parthenon of Book, 14वें आर्ट फ़ेस्टिवल का हिस्सा है. इसे कासेल विश्वविद्यालक के छात्रों की मदद से बनाया गया है. उन्होंने 170 ऐसी किताबों का चयन किया, जो विश्व के किसी न किसी देश में प्रतिबंधित हैं. इसे बनाने के लिए किताब, प्लास्टिक शीट और स्टील का इस्तेमाल किया गया.

जर्मनी की सबसे विवादास्पद किताब, 'Mein Kampf' का इस्तेमाल नहीं किया गया है. जिस स्थान पर The Parthenon of Books के प्रतिरूप को बनाया गया है, वहीं 1933 में नाज़ियों ने 2,000 किताबों को जलाया था.

Source: boredpanda