Sanchita pathak

मैं संचिता, लिखना ज़रूरी है सर्वाइवल के लिए इसलिए काम भी वही पकड़ लिया है. सामाजिक मुद्दों, महिलाओं से जुड़े मुद्दों, ह्यूमर, इतिहास जैसे विषयों पर लिखती हूं. मुझे किताबें पढ़ना, लिखना (नोट, चिट्ठी, कविता आदि) गाने सुनना पसंद है. कुछ लेखक, कुछ स्वतंत्रता सेनानी, ऐतिहासिक किरदार मुझे इंस्पायर करते हैं. यूं समझ लीजिए पॉप कल्चर, सोशल मीडिया की वजह से आप तक पहुंच ज़रूर गई हूं लेकिन कई बार ये बहुत बेमानी लगता है, अजनबी, समझ के परे. ज़िन्दगी में चाहिए तो पहाड़ पर एक कॉटेज, 2 कमरे, 2 बिल्लियां, और बढ़िया सी चाय, वैसे चाय की टंकी भी लगाई जा सकती है.

8 जहाज़ दुर्घटनायें, जिनके बारे में पढ़कर बर्बादी का मंज़र आंखों के सामने तैर जायेगा

Part 2: भारत में हैं ये 10 जगहें जिनका नाम पढ़कर वहां Selfie खींचने पहुंच जाओगे!

रोज़ काम आने वाली इन 14 चीज़ों की पहली तस्वीर लेकर आये हैं, देख लो

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत से जुड़े 6 सिद्धांत, जिन पर आम लोगों ने किया आंख मूंद कर विश्वास

दादा-दादी की ये 40 फ़ोटोज़ देखकर कहोगे, 'ये तो हमसे भी Cool हैं!'

इन 18 Black&White तस्वीरों में क़ैद है जानवरों की ली गयी पहली फ़ोटोग्राफ़

इन 20 Photoshopped तस्वीरों को देखकर शुक्र मनाओगे कि तुम्हें Photoshop नहीं आता

सौर मंडल के 9 ग्रहों की पहली तस्वीर ढूंढ कर लाये हैं, देखकर वैज्ञानिकों को सलाम करोगे