भगवान बुद्ध को गृहस्थ जीवन त्यागने के बाद एक वृक्ष के नीचे ज्ञान की प्राप्ती हुई थी. अगर उस ज़माने में ऑटो चलती, तो उन्हें इस प्रक्रिया से नहीं गुज़रना पड़ता. आजकल ऑटो के पीछे ही इतना ज्ञान चेपा हुआ होता है जितना ख़ुद भगवान कृष्ण रणभूमि में अर्जुन के नहीं दे पाए थे.

इस ज्ञान को सतही समझने की भूल कदापी मत कीजिएगा, जीवन का सार है ये ज्ञान.

1. अनार कली बाज़ार चली.

2. रात में डाइपर का उपयोग ज़रूर करें.

3. Volkswagen नहीं है तो क्या हुआ, स्वैग तो बराबर है न.

4. सूचना गर्लफ्रेंड हित में जारी.

5. समझ गए बच्चू?

6. सीधी बात नो बकवास.

7. कुछ ज़्याद ही ज़ल्दी में था.

8. प्यार की परिभाषा.

9. दोनों नुकसानदेह हैं.

10. प्रेम के पंछियों के लिए तीन पहिये वाला घोंसला.

11. ऐसा ज्ञान और कहां मिल सकता था.

12. ज़िंदगी सबकी लेती है.

13. ख़ुद पढ़ कर समझ जाओ.

14. इस विज्ञापन की वजह से बाबा का बिज़्नस चौपट हो जाएगा.

15. परम ज्ञान.

अगर आपके भीतर की दिव्य ज्योती जल चुकी है, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर उनका उद्धार ज़रूर करें.