आयशा अज़ीज़ को बचपन से ही जहाज़ में उड़ना पसंद था. ये उन्हें रोमांच से भर देता था. तभी से उनकी आंखों में पायलट बनने का सपना पलने लगा था और मात्र 16 साल की उम्र में उन्होंने अपने इस सपने को हकीक़त में बदल डाला. अब उन्हें कमर्शियल पायलट लाइसेंस भी मिल गया है और जल्द ही वो पैसेंजर फ़्लाइट उड़ाती नज़र आएंगी.

1995 में जन्मी आयशा को 2011 में स्टूडेंट लायसेंस मिल गया था. वो स्कूल के साथ ही शनिवार-रविवार को विमान उड़ाना सीखती थीं. उनके सपने को पूरा करने के लिए उनके मां-बाप ने भी उनका पूरा-पूरा साथ दिया. हाई स्कूल के बाद ही उनका फ़्लाईंग स्कूल में दाखिला करवा दिया गया था. 16 साल की उम्र में ही सभी टेस्ट पास करने के बाद उन्हें स्टूडेंट पायलट लाइसेंस मिल गया था.

आयशा के पिता कहते हैं कि जानकारी और उत्सुकता ही इंसान को आगे बढ़ाती हैं. अगर आपके बच्चों का कोई सपना साकार करना है, तो आपको भी इस प्रक्रिया का हिस्सा बनना पड़ेगा.

सुनीता विलियम्स को अपना आदर्श मानने वाली आयशा को एडवेंचर, घूमना और लोगों से मिलना बहुत पसंद है. उन्हें NASA जाने का मौका भी मिल चुका है, जहां उनकी मुलाकात एविएटर जॉन मैकब्राइड से हुई थी. अपनी रोल मॉडल सुनीता विलियम्स से मिलकर तो उनकी ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा.

आयशा का अगला टारगेट है रूस के Sokul एयरबेस में MIG-29 फ़ाइटर जेट उड़ाना.

इतनी छोटी उम्र में जो कुछ आयशा हासिल कर चुकी हैं, वो प्रमाण है इस बात का कि यदि आपमें लगन है, तो आपके सपनों के आड़े न आपकी उम्र आती है और न ही महिला होना आपको किसी से कम बनाता है. हम आयशा को उनकी इस नयी उपलब्धि के लिए ढेरों बधाइयां देते हैं.

Source: Thequint