मेडिकल साइंस की उपलब्धियों में एक नया अध्याय जुड़ गया है. दक्षिणी चीन के एक अस्पताल में 16 साल पुराने भ्रूण से एक महिला ने स्वस्थ बच्चे को पैदा करने में कामयाबी पाई है. जिन्हुआ न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक, 46 साल की ये महिला एक लंबे अर्से के बाद अपने दूसरे बच्चे को पाकर बेहद खुश है. डॉक्टरों के मुताबिक, मां और नवजात बच्चे का स्वास्थ्य पूरी तरह से ठीक है.

इस महिला का पहला बेटा भी आज से 16 साल पहले इसी भ्रूण के द्वारा पैदा हुआ था. सन 2000 में आईवीएफ तकनीक की मदद से इस महिला ने अपने पहले बच्चे को जन्म दिया था. चीन में एक बच्चे की सख्त पॉलिसी होने की वजह से अस्पताल ने महिला के अंडे और पति के शुक्राणुओं के ज़रिए तैयार किए गए सभी 18 भ्रूण को फ्रीज़ कर दिया था.

चीन में अब एक बच्चे की इस पॉलिसी को खत्म कर दिया गया है. इस घोषणा के बाद, पिछले साल ही ये महिला अस्पताल पहुंची थी और दोबारा प्रेग्नेंट होना चाहती थी. हालांकि फ्रीज़ किए गए भ्रूण को सामान्य करना आसान काम नहीं था क्योंकि महिला के गर्भाशय के साथ कुछ दिक्कतें थींं और भ्रूण को फ्रीज़ करने की तकनीक भी विश्वसनीय नहीं थी. यही नहीं, अधेड़ उम्र की महिलाओं के लिए ये प्रयोग थोड़ा रिस्क भी लिए हुए था लेकिन सभी मुश्किलों से पार पाते हुए आखिरकार महिला इस बच्चे को जन्म देने में सफ़ल रही.

डॉक्टरों के मुताबिक, अस्पताल में 23 साल पुराने भ्रूणों की भी मौजूदगी है और उन्हें उम्मीद है कि इस महिला का रिकॉर्ड जल्दी ही टूटेगा. वहीं महिला और उनका नवजात बच्चा पूरी तरह से सुरक्षित हैं और जल्दी ही दोनों को अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी.

Source: Mid-day