मज़हब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना...

बीती रात स्पेन के बार्सेलोना का Las Ramblas हमले का शिकार हो गया. इस हमले में अब तक 13 लोगों ने अपनी जान गंवाई है और 100 से अधिक लोगों ज़ख़्मी हो गए. इस हमले से न सिर्फ़ स्पेन, बल्कि पूरा विश्व सक्ते में आ गया है.

एक तरफ़ जहां कुछ लोग इस हमले की निंदा कर रहे हैं, वहीं कुछ लोग इस पर भी राजनैतिक फ़ायदे भी ढूंढ रहे हैं.

मुश्किल की इस घड़ी में स्पेन के गुरुद्वारे पीड़ितों की मदद के लिए आगे आये हैं. गुरुद्वारे से जुड़े एक सदस्य ने ट्वीट कर के जानकारी दी कि जिस किसी को भी मुसीबत की इस घड़ी में सहायता की ज़रूरत है, उसकी मदद के लिए गुरूद्वारे के दरवाज़े हमेशा खुले हैं.

इससे पहले भी सिखों ने कई बार इस तरह के हालातों में लोगों की मदद की है. सिखों ने कई बार साबित किया है की इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं होता.

ट्विटर यूज़र ने बार्सेलोना के गुरुद्वारों का पता भी शेयर किया है.

बार्सेलोना के बाशिंदे भी मदद को आगे आ रहे हैं. लोग मुफ़्त में टैक्सी राइड से लेकर रहने की जगह देने तक की बात कर रहे हैं. बार्सेलोना के ट्रांसपोर्ट ऑथिरिटी ने बस और मेट्रो में टिकट को लेकर कड़ाई से पेश न आने की भी घोषणा की है.

लोगों की ऐसी एकजुटता देखकर लगता है कि इंसानयित अभी बाकी है.