आमतौर पर भारत के गांवों की छवि लोगों के दिमाग में बहुत सुन्दर नहीं होती. खुली नालियां, कच्चे घर, गोबर और मवेशी इस छवि का हिस्सा होते हैं. लेकिन आज हम आपको भारत के ऐसे 13 ख़ूबसूरत गांव दिखा रहे हैं, जिन्हें देख कर आपके दिमाग में भारत के गांव की छवि हमेशा के लिए बदल जाएगी.

ये हैं भारत के वो 13 गांव, जो किसी टूरिस्ट डेस्टिनेशन को भी फ़ेल कर सकते हैं:

1. मावल्यान्नांग, मेघालय

2003 में इस गांव को एशिया के सबसे साफ़ गांव का टाइटल दिया गया था. ये गांव शिलॉन्ग के पास स्थित है. यहां आपको एक से एक सुन्दर नज़ारे देखने को मिलेंगे.

2. खोनोमा, नागालैंड

कोहिमा से कुछ दूर स्थित ये गांव घने जंगल से घिरा हुआ है. इसे भारत का सबसे हरा-भरा गांव कहा जाता है.

3. किला रायपुर, लुधिआना

पंजाब की रूह को देखना हो, तो इस गांव में आइये और 'मक्के दी रोटी ते सरसों दे साग' का मज़ा लीजिये. यहां हर साल गांव का ओलंपिक्स इवेंट भी होता है.

4. मलाना, हिमाचल प्रदेश

कुल्लू घाटी के पास स्थित इस गांव में आकर आपको प्रकृति के क़रीब होने का एहसास होगा.

5. कसौल, हिमाचल प्रदेश

घने जंगलों के बीच बसा है ये छोटा सा गांव, जहां प्रकृति प्रेमियों को सुकून मिलता है. बहुत कम बजट में आप यहां आकर छुट्टियां बिता सकते हैं.

6. बीर बिलिंग, हिमाचल प्रदेश

एडवेंचर प्रेमियों के लिए ये जगह जन्नत से कम नहीं है. यहां आप ट्रेकिंग भी कर सकते हैं.

7. जंजैहली, हिमाचल प्रदेश

हिमाचल में इस तरह के कई खूबसूरत गांव स्थित हैं. मंडी जिले का ये गांव भी उन्हीं में से एक है. धार्मिक लोगों के लिए यहां कई सारे मंदिर भी हैं.

8. गोकर्ण, कर्णाटक

गोवा के पास बसा ये गांव शोर-गुल से दूर एक शांत जगह है. लोग पूजा-पाठ के लिए भी यहां आते हैं.

9. मिरिक, पश्चिम बंगाल

ये जगह प्रसिद्ध नहीं है, लेकिन देखने लायक ज़रूर है. यहां एक झील है, जिसके आस-पास के नज़ारे बेहद ख़ूबसूरत हैं.

10. भंडारदरा, महाराष्ट्र

मुंबई के पास स्थित ये गांव आपको शहर की ज़िन्दगी से दूर कुछ फ़ुर्सत और सुकून के पल दे सकता है.

11. कटारमल, अलमोड़ा, उत्तराखंड

यहां आपको आलीशान होटल तो नहीं मिलेंगे, लेकिन दिल ख़ुश कर देने वाले प्राकृतिक नज़ारे खूब मिलेंगे.

12. चौगान, मध्य प्रदेश

जंगल बुक का अनुभव असल ज़िन्दगी में करना हो, तो यहां आएं. कहा जाता है कि रुडयार्ड किपलिंग को वो कहानी लिखने की प्रेरणा इसी गांव से मिली थी.

13. लाचेन, सिक्किम

2,750 मीटर की ऊंचाई पर स्थित इस गांव में भेड़ और याक के फ़र का ऊन बनाया जाता है. यहां ट्रेकिंग का भी मज़ा लिया जा सकता है.

अगर आपको भी ऐसे किसी ख़ूबसूरत गांव के बारे में पता हो, तो हमें ज़रूर बताएं.