देश में सांप्रदायिकता का ज़हर इस कदर घुल चुका है कि इस दौड़ में अब सर्विस देने वाली कंपनियां भी शामिल होने लगी हैं. अब जैसे बंगलुरु का ही वाकया ले लीजिये, जहां होटल बुक कराने पहुंचे एक दम्पति को सिर्फ़ इसलिए रूम देने से मना कर दिया क्योंकि पति और पत्नी दोनों अलग-अलग धर्मों को मानने वाले थे.

ख़बरों के मुताबिक, केरल के रहने वाले शफ़ीक ज़ुबैदा हक्क़िम और दिव्या DV किसी काम से बंगलुरु पहुंचे थे. यहां वो सुदामा नगर के अनिपुरम मेन रोड स्थित Olive Residency में रूम लेने के लिए पहुंचे, पर होटल वालों ने ये कह कर रूम देने से मना कर दिया कि एक हिन्दू, मुस्लिम से शादी कैसे कर सकता है?

शफ़ीक के मुताबिक, रिसेप्शन पर बैठे लोगों ने जब हमारे आइडेंटिटी कार्ड देखे, तो उन्होंने पहले पूछा कि क्या हम सच में पति-पत्नी हैं? उसके बाद उन्होंने हमें एक रूम देने से मना कर दिया. इसके पीछे उनका कहना था कि हिन्दू और मुसलमान कभी एक साथ नहीं रह सकते.

इस बारे में जब रिसेप्शन से बात की गई, तो उन्होंने कहा कि 'मैं खुद ग्रामीण इलाके से आता हूं, वहां ऐसा कभी नहीं होता कि किसी हिन्दू ने मुसलमान से शादी की हो. ऐसे मामलों में ज़्यादातर लोग ख़ुदकुशी कर लेते हैं'

Source: thequint