स्कूल को मंदिर और शिक्षकों को भगवान कहे जाने की परंपरा को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है. बिहार के एक प्राइवेट स्कूल में दो बहनों को फ़ीस न देने के लिए शर्मनाक तरीके से प्रताड़ित किया गया. उनके कपड़े उतरवाए गए और ऐसे ही उन्हें घर जाने पर मजबूर किया गया.

रास्ते में जब इस अवस्था में उन्हें एक गांववाले ने जाते देखा, तो उन्हें तन ढंकने के लिए कुछ कपड़े दिए. बिहार के बेगुसराय के स्कूल के शिक्षकों ने बीते शुक्रवार को ये गिरी हुई हरकत की थी. ये घटना वीडियो में भी कैद हुई है, जिसमें दोनों बहनें धीरे-धीरे अपने घर की तरफ जाती हुई दिख दे रही हैं.

इनमें से एक नर्सरी में पढ़ती है और दूसरी पहली कक्षा में. बहनें ग़रीब परिवार से हैं पर उनके घरवालों ने उन्हें पढ़ाना चाहा, बस यही कसूर था इनका. लड़कियों के पिता ने स्कूल से पैसे जमा करने के लिए कुछ दिनों की मोहलत मांगी दी, जिसे ठुकरा दिया गया.

इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ़्तार किया है. पिता चुनचुन शाह जब अपनी बेटियों को स्कूल से लाने गए, तो उन्हें टीचर से मिलने के लिए कहा गया. टीचर ने उनसे बच्चियों की स्कूल यूनिफ़ॉर्म के पैसे देने के लिए कहा. जब वो पैसे नहीं दे पाए, तो टीचर ने सबके सामने बच्चियों की यूनिफ़ॉर्म उतरवा ली और लड़कियों को स्कूल से निकाल दिया.

इसी तरह अगर ऐसी घटनाएं होती रहीं, तो शायद जल्द ही स्कूल को मंदिर कहे जाने की परंपरा दम तोड़ देगी.

Source: Indiatimes