बॉलीवुड की दुनिया के चमकते सितारों का एक ऐसा रूप भी है, जो लोगों के सामने नहीं आता. ये घिनौना रूप अगर लोगों के सामने आ जाये, तो शायद लोग इन्हें अपना आइडियल मानना छोड़ देंगे. इन सितारों की जगमगाहट तो हम देखते हैं, लेकिन जब देर रात, नशे में धुत्त और घमंड में चूर ये स्टार्स अपने घरों को लौटते हैं, तो इनके इस कुरूप रूप को झेलना पड़ता है उनके नौकरों को.

इन नौकरों ने अपने इतने बुरे अनुभवों के बारे में बताया है कि कई एजेंसियों ने बॉलीवुड से संबंध रखने वालों को डोमेस्टिक हेल्प मुहैया कराने से ही इंकार कर दिया है. BookMyBai.com जैसी कई वेबसाइट्स ने ये कदम उठाया है. दरअसल, स्टार्स द्वारा नौकरों के साथ बदसलूकी करने की कई घटनाएं सामने आई थीं, जिनके बाद ऐसा करना ज़रूरी हो गया था. वेबसाइट के को-फाउंडर अनुपम सिंहल ने अपने ब्लॉग में 20 से ज़्यादा सेलेब्रिटीज़ पर ऐसे आरोप लगाए हैं.

नौकरों के साथ गाली-गलौज और मारपीट तक की घटनाएं देखी गयी हैं. उन्होंने 5 सेलेब्रिटीज़ के द्वारा की गयी बदसलूकी के बारे में डिटेल में लिखा है. सेलेब्स मेड के साथ गालीगलौच और मारपीट करते हैं. पर्सनल इमरजेंसी में छुट्टियां न देना, अपने रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में ना जाने देना और खाना व तनख्वा न देने जैसी शिकायतें तक मिली हैं.

सेलेब्रिटीज़ अपने संपर्क बड़े-बड़े लोगों से होने की धाक जमाकर मामले को रफ़ा-दफ़ा कर देते हैं. कई बार तो जान से मारने की भी धमकी दे देते है. मुंबई की नामी मेड सर्विस 'Happy Maid Service' के डायरेक्टर अभिषेक साबले ने बताया कि वो भी अब बॉलीवुड सेलेब्रिटीज़ का कॉन्ट्रैक्ट लेना बंद कर चुके हैं. अभिषेक ने ये भी बताया की किस तरह सेलेब्रिटीज़ द्वारा मेड को प्रताड़ित किया जाता है और उन्हें ठीक से खाना भी नहीं दिया जाता. अगर कुक ने अच्छा खाना नहीं बनाया, तो कुछ सेलेब्रिटीज़ तो प्लेट उनके मुंह पर फेंक देते हैं.

केस-1

एक फ़ीमेल बॉलीवुड सेलेब्रिटी ने मेल हेल्पर की डिमांड की थी. दुर्भाग्यवश, जब हेल्पर वहां काम करने लगा, तो उसकी मां की मृत्यु हो गयी. सेलेब्रिटी ने एजेंसी से कहा कि जब तक वो दूसरा हेल्पर नहीं भेजते, वो हेल्पर को नहीं जाने देंगी. उनसे कहा गया कि मंडे को हेल्पर भेज देंगे, आप उस हेल्पर को जाने दीजिए. लेकिन, सेलिब्रिटी ने हेल्पर को नहीं जाने दिया और वो अपनी मां के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंच सका.

केस-2

एक अन्य फ़ीमेल सेलेब्रिटी ने मेड के साथ टॉर्चर और हैरेसमेंट किया. हमने 7 बार मेड को बदला, लेकिन कोई भी 10 दिन से ज़्यादा उसके घर में नहीं टिक पता था. 3 करोड़ की कार से चलने वाली ये सेलेब्रिटी, मेड को खाना तक नहीं देती थी. सेलेब्रिटी ने धमकी दी कि वो अपने भाई को बोल कर एजेंसी के ऑफ़िस में बाउंसर्स भेजेगी और उन्हें सबक सिखाएगी.

केस-3

एक मामले में मेड के साथ रोज़ मारपीट की जाती थी. पता चलने पर उसे काम छोड़ने को कहा गया. जब वो ऑफ़िस आई, तो उसके शरीर पर मार-पीट के निशान साफ़ दिखाई पड़ रहे थे. मेड ने डर कर पुलिस में शिकायत करने से भी मना कर दिया.

केस-4

एक और सेलेब्रिटी ने मेड के साथ मारपीट और गाली-गलौच की. इससे मेड इतनी तंग आ गई कि वो गांव चली गई और दोबारा लौट कर ही नहीं आई. उसने फ़ोन पर कहा कि डर के चलते अब वो शहर आना भी नहीं चाहती.

केस-5

इस मामले में सेलेब्रिटी ने मेड रखी, लेकिन एजेंसी का 15 हज़ार का सर्विस चार्ज देने से इंकार कर दिया. जब उनसे पैसे मांगे गए, तो उन्होंने कह दिया कि जो करना है, कर लो.

ये केसेज़ साफ़ करते हैं कि कुछ सेलेब्रिटीज़ को लगता है कि उनके पास पैसा और पावर है, इसलिए वो अपने घर में काम करने वालों के साथ कुछ भी कर सकते हैं. हालांकि, कुछ सेलेब्रिटी डोमेस्टिक हेल्प के साथ अच्छा बर्ताव भी करते हैं, लेकिन ज़्यादातर नौकरों के अनुभव सेलेब्स के साथ बुरे ही रहे हैं.

Source: Cosmopolitan