यूपी से आज एक ऐसा किस्सा सामने आया है, जिसे जानने के बाद आपका मन विचलित सा हो जाएगा. 12 साल के तारिक की कहानी जानने के बाद शायद कुछ लोगों की रातों की नींद ही गायब हो जाए.

दरअसल, 12 साल का तारिक बचपन से एक बेहद अजीबो-गरीब बीमारी से पीड़ित है. तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि तारिक के हाथ किसी नॉर्मल इंसान की तरह नहीं है. इसकी उंगलियों का साइज़ दिन प्रति दिन बढ़ता है.

तारिक हर पल जीते हुए भी मरा सा महसूस करता हैं, क्योंकि वो शरीर से इतना परेशान नहीं है, जितना समाज के बुरे तानों से है. स्कूल में तारिक को ये कह कर एडमिशन नहीं दिया कि बच्चे उसके हाथ देख कर डर जाएंगे. वहीं दोस्त के नाम पर भी वो बिल्कुल अकेला है. तारिक के परिवार में उसकी बूढ़ी मां और एक भाई है. तारिक के घर में आमदनी का ज़रिया सिर्फ़ उसके पिता ही थे, उनकी भी कुछ समय पहले मौत हो गयी.

तारिक इतना बेबस है कि वो अपने रोज़मर्रा के काम के लिए भी अपने भाई पर निर्भर है. इतनी लाचारी की ज़िंदगी जीने के बाद भी इस बच्चे के मन में तमाम ख़्वाहिशें हैं. इसी के बारे में करते हुए तारिक कहता है कि 'मैं भी आम बच्चों की तरह स्कूल जाकर पढ़ाई करना चाहता हूं, खेलना चाहता हूं. मुझे आशा है कि मैं भी एक दिन नॉर्मल इंसान की तरह ज़िंदगी जी पाऊंगा.'

तारिक की इसी बीमारी के बारे में बात करते हुए डॉ. पवन कुमार गांधी कहते हैं, तारिक की बीमारी थोड़ी रहस्यमयी है, आज से पहले हमने किसी भी मरीज़ को ऐसी बीमारी से पीड़ित नहीं देखा.'

तारिक हम आशा करते हैं कि एक दिन ऐसा आएगा जब आप भी आम बच्चों की तरह खेल-कूद और पढ़ाई कर सकेंगे. हम अपने रीडर्स से भी ये विवेदन करना चाहेंगे कि अगर वो इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं तो तारिक की मदद ज़रूर करें, ताकि वो भी आपकी तरह एक आम ज़िंदगी जी सके.

Source : thesun