किसी परिवार ने अपने 3 साल के बच्चे को सड़क पर मात्र इस कारण से मरने के लिए छोड़ दिया था, क्योंकि उनको ऐसा लगता था कि उस पर बुरी शक्ति का असर है. वो बच्चा इतना कमजोर और बीमार था कि उसका बचना मुश्किल था. इस नाइजीरियन बच्चे को समाज सेविका Anja Ringgren Loven ने बचाया और उसे अपने साथ घर ले गईं. पिछले साल इसी समय इस छोटे मासूम को उसके घरवाले उसे चुड़ैल समझ के सड़क पर फेंक गए थे.

तीन साल का ये बच्चा आठ महीनों तक सड़क पर ही रहा और लोगों द्वारा फेंकी गई चीज़ें खाता रहा. मिस Loven जो नाइजीरिया में कुछ सालों तक रही थीं, उसको अपने पास रख कर सही से इलाज करवाया. कुछ ही महीनों में बच्चे की स्थिति बहुत अच्छी हो गई है, बच्चा बहुत तेज़ी से रीकवर कर रहा है. मिस Loven ने बच्चे की उस दिन की तस्वीर, जब वो उन्हें सड़क पर मिला था और अब की उसकी स्कूल जाती हुई तस्वीर शेयर की है, जो काफी भावपूर्ण है.

Loven ने इस बच्चे का नाम Hope रखा है. Hope इसी हफ़्ते से स्कूल जाना शुरू कर रहा है. Hope के पेट में कीड़े थे, जो उसे अन्दर से कमजोर बना रहे थे. साथ ही रक्त की पूर्ती के लिए उसको लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने वाली दवाइयां भी दी गईं.

Loven नाइजीरिया में ऐसे ही बच्चों को अच्छी ज़िंदगी देने के लिए अनाथालय चलाती हैं, जिसके लिए दुनिया भर से लगभग 66 करोड़ रुपये का डोनेशन मिला था.

Loven की गिनती दुनिया की प्रभावशाली हस्तियों में होती है. उनका कहना है कि पिछड़े इलाकों में अभी भी लोग बच्चों को बीमार होते ही किसी बुरी ताकत का कहर मान कर उसे त्याग देते हैं, या उसे मरने तक भूखा रखते हैं. उन्होंने ऐसे ही बच्चों को बचाने के लिए अपने पति के साथ मिलकर African Children’s Aid Education and Development Foundation नाम की एक संस्था शुरू की है.

Source: TheSun