मध्य प्रदेश के एक सिपाही ने बहादुरी का परिचय देते हुए कुछ ऐसा कर दिखाया, जिसके बाद हमेशा उसके जज़्बे की मिसाल दी जाएगी. मध्य प्रदेश के सागर ज़िले के चितोरा गांव के एक स्कूल में तोप का गोला मिलने की ख़बर से सनसनी फैल गई.

दहशत के माहौल के बीच एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने बहादुरी दिखाई, जिसके कारण किसी भी तरह का जान-माल का नुकसान नहीं हुआ. जब यह गोला बरामद हुआ, उस वक्त स्कूल में 400 बच्चे मौजूद थे. करीब 10 किलो वज़न के इस तोप के गोले को कॉन्स्टेबल अपने कंधे पर लादकर अकेले ही स्कूल से काफ़ी दूर ले गया, ताकि सबकी जान बच सके.

कॉन्स्टेबल अभिषेक पटेल ने बताया, 'मैं उसे रिहाइशी इलाके और स्कूल से दूर ले गया, ताकि बच्चों को कोई नुकसान न हो.'

तोप का गोला लेकर दौड़ते हुए अभिषेक पटेल का 12 सेकेंड का वीडियो अब वायरल हो रहा है. तोप के गोले की सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुंच गयी थी. कोई भी उसके नज़दीक जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था. ऐसे में कॉन्स्टेबल अभिषेक पटेल ने हिम्मत दिखाते हुए गोले को उठाया और दौड़कर एक किलोमीटर दूर फ़ेंक दिया.

सागर के आईजी सतीश सक्सेना ने बताया, 'घटनास्थल के पास में ही आर्मी का शूटिंग रेंज है, बम वहां कैसे पहुंचा, इसकी जांच की जा रही है, बहादुरी के लिए कॉन्स्टेबल अभिषेक पटेल को इनाम देने की घोषणा भी की गयी है.