शादी को जन्मों का बंधन कहा जाता है. ज़्यादातर लोग एक ही शादी करते हैं और उसे ज़िन्दगी भर निभाते हैं. लेकिन एक शख़्स 29 साल की उम्र में एक-दो नहीं, पूरी पांच शादियां की और छठी शादी करने की कोशिश कर रहा था. जब इस बात का पता दुल्हन के पिता को चला, तो उसने उस शख़्स पर धोखाधड़ी का केस कर दिया. पुलिस ने IPC की धारा 420 (धोखाधड़ी) और 34 (Common Intention) के तहत मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

धोखाधड़ी का आरोपी जलाल नाडकर, मुम्ब्रां की किस्मत कॉलोनी का रहने वाला है. जलाल इससे पहले ही पांच बार शादी कर चुका था. इस बार वो जिस लड़की से शादी करने जा रहा था, उसकी उम्र 20 साल है और अभी ग्रेजुएशन कर रही है. पीड़िता और जलाल की सगाई पिछले साल नवम्बर में हुई थी.

इस मामले में जलाल की मां नईमा नाडकर पर भी आरोप है कि उसने धोखाधड़ी के मामले में जलाल का पूरा साथ दिया. नईमा, जलाल की पिछली सभी शादियों के बारे में जानती थी.

इस मामले के बारे में जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि जलाल पिछले साल पीड़िता से एक शादी समारोह में मिला था. एक व्यक्ति जो दोनों परिवारों को जानता था, उसके माध्यम से जलाल ने शादी का प्रस्ताव रखा. उसने लड़की वालों को बताया कि अभी तक वो कुंवारा है. इसके बाद उसने अपनी मां की सहायता से पीड़िता के साथ सगाई कर ली.

जलाल की पांचवी पत्नी मीनाज ने भी जलाल पर उत्पीड़न का केस दर्ज करवाया है. मीनाज का कहना है कि जलाल ने उसके परिवार वालों से कई बार किराए पर दुकान लेने के लिए पैसा लिया है. मीनाज ने ये भी बताया कि जलाल 2011 में अज़बिन शेख और 2012 में निलोफर चौगुले नाम की लड़की के साथ शादी कर चुका है.

फ़िलहाल, इस मामले पर क़ानून अपना काम कर रहा है. लेकिन क़ानून को भी एक मिसाल कायम करने के लिए ऐसे धोखेबाजों को सख़्त सज़ा देनी चाहिए. ताकि भविष्य में फिर कभी कोई किसी मासूम की ज़िन्दगी से खिलवाड़ करने की हिम्मत न करे.

Article Source: MidDay