दुनिया की सबसे ऊंची इमारत के रूप में प्रसिद्ध दुबई की बुर्ज ख़लीफ़ा को बीते शुक्रवार को तिरंगे के रंगों की रौशनी से रंग दिया गया. इसके पीछे भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संयुक्त अरब अमीरात (UAE) दौरा था. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जॉर्डन, फिलीस्तीन और संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा के दौरान पीएम मोदी बीते शनिवार यानि कि 11 फरवरी को UAE पहुंचे जहां उनका भव्य स्वागत किया गया.

Source: indiatimes

ये कहना ग़लत नहीं होगा कि संयुक्त अरब अमीरात भारत के साथ अपने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहा है. इस बात का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अपना अभी तक के कार्यकाल में पीएम मोदी इस गल्फ़ कंट्री का दो बार दौरा कर चुके हैं, जो कि वास्तव में एक अच्छा संकेत है. गौरतलब है कि मोदी अगस्त 2015 में भी यहां आए थे.

अब इस दोस्ती और इसके सम्मान की निशानी के तौर पर मोदी जी के दुबई दौरे से पहले ही बीते शुक्रवार को बुर्ज ख़लीफ़ा सहित वहां की कई इमारतों को तिरंगे के रंगों की रौशनी के जगमगा दिया गया.

Source: twimg

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दुनिया की सबसे ऊंची इमारत, बुर्ज ख़लीफ़ा, सरकारी स्वामित्व वाली तेल कंपनी अबू धाबी नेशनल ऑयल कंपनी (ADNOC) का मुख्यालय है. और ये दुनिया की सबसे बड़ी और ऊंची बिल्डिंग है, जिसे पीएम मोदी के दुबई दौरे से एक दिन पहले ही केसरिया, सफ़ेद और हरे रंग की रौशनी से तिरंगे के रूप में बदल दिया गया था और ये नज़ारा बेहद ही ख़ूबसूरत था.

इस दौरे के दौरान मोदी ने अबू धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्‍मद बिन जायद अल नाह्यान से राष्‍ट्रपति भवन में मुलाकात की. बीते रविवार को मोदी ने वहां पर सबसे पहले हिन्दू मंदिर का शिलान्यास भी किया. इसके बाद उन्होंने ओपेरा हाउस में भारतीय समुदाय को संबोधित भी किया.

इसके साथ ही मोदी ने UAE के नेताओं, भारतीय समुदाय और उद्योगपतियों से भी मुलाकात की. वहीं UAE की मीडिया में भी पीएम मोदी के दौरे को लेकर काफ़ी चर्चा हो रही. UAE के खलीज टाइम्स में भी मोदी के दौरे का शानदार कवरेज किया. और मोदी ने रविवार को ही दुबई में World Government Summit, जिसमें भारत अतिथि देश है, में एक भाषण दिया.

Source: TOI