देश से VIP कल्चर को ख़त्म करने की दिशा में एक कदम और उठाया गया है. VIP कल्चर की पहचान बन चुके 'लाल बत्ती' को हटाने के बाद अब देश के राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, राज्यों के राज्यपाल और अन्य पदों पर विराजमान हस्तियों की गाड़ी पर भी रजिस्ट्रेशन नंबर लगाए जाएंगे. पहले इनकी गाड़ियों पर केवल राष्ट्रिय ध्वज और राष्ट्रिय प्रतीक लगे रहते थे.

पिछले महीने एक स्वंय सेवी संस्थान द्वारा दायर किए गए पी.आई.एल की सुनवाई करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने आदेश दिया कि इस विषय को लेकर तय नियम बनाए जाएं. गाड़ी के ऊपर रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं लिखने की प्रथा VIP कल्चर को दर्शाता है. सरकारी पदों पर बैठे लोग जनता के सेवक हैं, इस भावना का ख़्याल रखा जाना चाहिए.

अब से राष्ट्रपति या राज्यपालों की गाड़ी पर राष्ट्रिय प्रतीक के साथ-साथ नंबर भी लगाए जाएंगे. हालांकि, Motor Vehicle Act के तहत किसी भी गाड़ी पर रजिस्ट्रेशन नंबर का न होना गैर-क़ानूनी है.

Source: indiatimes

Feature Image: timesofindia