भारत, दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र. हमारा संविधान भी दुनिया में सबसे बड़ा है. आज़ादी और लोकतंत्र एक हफ़्ते में नहीं मिले थे हमें. बरसों लगे थे और न जाने कितनों ने अपनी ज़िन्दगी गंवाई थी.

इस लोकतंत्र को सुरक्षित रखने में भी कई लोगों ने अपना सर्वस्व दे दिया.

देश के हर एक व्यक्ति के विकास और उन्हें समान अवसर देने के लिए और लोकतंत्र को सुदृढ़ बनाने के लिए आरक्षण व्यवस्था लाई गई. फिर क्या हुआ ये हम और आप सभी जानते हैं. जिन्हें असल में ज़रूरत है, उन तक आरक्षण का लाभ कम ही पहुंच पाता है और जिन्हें आवश्यकता नहीं, वो स्पेशस स्टेट्स के लिए सड़कों पर उतर आते हैं.

इन सब के बीच मध्य प्रदेश से एक बेहद अजीब मामला सामने आया है. मध्य प्रदेश के धार ज़िले में पुलिस कॉन्स्टेबल की भर्ती चल रही थी.

Source- ANI

भर्ती प्रक्रिया के दौरान Candidates के सीने पर SC, ST लिख दिया गया. भर्ती करवाने वालों का ये कहना था कि Candidates की पहचान के लिए उनके ऊपर SC, ST लिखा गया.

BBC की ख़बर के अनुसार, मामले ने जब ज़ोर पकड़ा, तब भर्ती जिनकी देख-रेख में हो रही थी उन्होंने ने बताया कि उन्हें इस तरह से जाति लिखवाने का करने का कोई ऑर्डर नहीं मिला था.

अभी इस भर्ती में Candidates का Medical Examination चल रहा है.

Source- BBC

क्या है कारण?

Medical Examination में जनरल और आरक्षित वर्ग के लिए अलग-अलग लंबाई तय की गई है. इसलिये Candidates के शरीर पर SC,ST लिख दिया गया. तस्वीरें सामने आने पर प्रशासन ने मामले की जांच करवाने का आश्वासन दिया है.

Source- Zee News

ANI से बातचीत में अस्पताल के Chief Medical And Health Officer, Dr.R.C.Panika ने कहा,

हम जल्द ही इस मामले की जांच करवाएंगे.

धार के एसपी, बिरेन्द्र सिंह ने घटना की नींद करते हुए ANI को बताया,

Candidates के सीने पर उनकी जाति लिखने की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. हम इस मामले को गंभीरता से लेंगे क्योंकि ये ग़लत है.

इस तरह की घटना देश और गिरते समाज की ओर इशारा करती है. परिक्षा में सफ़ल हुए Candidates, नौकरी जाने के डर से मामले पर कुछ कहने से बच रहे हैं. इस तरह के तरीकों से Candidates के साथ भेद-भाव होने के आसार बढ़ जाते हैं.

हम उम्मीद करते हैं कि इस तरह की घटनायें भविष्य में न हों.