झारखंड एक आदिवासी बहुल राज्य है, मगर यहां की आबादी कैशलेस हो रही है. और ये बात हम कोई तुक्के में नहीं कह रहे हैं. झारखंड के पूर्वी सिंहभूमि जिले के बादिया में एक अनोखी कैशलेस शादी हुई है. इस शादी में ना तो वर पक्ष को और ना ही वधु पक्ष को कैश ख़्रर्च करना पड़ा है. सभी लेन-देन का भुगतान ऑनलाइन हुआ. इतना ही नहीं, इस शादी में दहेज के नाम पर वर पक्ष के घर में शौचालय भी बनवाया गया. वो भी कैशलेस.

Source: Gajab Dunia

इस शादी को एक उदाहरण के तौर पर समझा जा सकता है. लड़के का नाम सुभाष है और लड़की का नाम सुनीता. इन दोनों की शादी में किसी भी रस्म के लिए कैश से भुगतान नहीं किया गया. इस शादी के बारे झारखंड सरकार को अवगत कराया गया. मामले को संज्ञान में लेते हुए चीफ़ मिनिस्टर के कैंप ऑफिस में तैनात डिप्टी कलेक्टर संजय कुमार ने दोनों परिवारों को कैशलेश शादी के लिए शाबाशी दी.

इस शादी में सब्जी, गहने और पंडितजी को दक्षिणा भी ऑनलाइन दी गी. इस शादी को हम देशभर में चल रहे कैशलेस सोसायटी के अभियान का हिस्सा समझ सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ग्रामीण इस शादी से काफ़ी उत्साहित थे. वे ऐसी शादी इस गांव में और करना चाहते हैं.

Source: Nai Dunia