ओपिनियन

एक जवाब उनको जो पूछ रहे हैं, आख़िर मारे गए मज़दूर पटरियों पर सोए ही क्यों थे?

अगर आप या कोई और साइबर बुलिंग का हुआ हो शिकार, तो ये चीजें आपको सेफ़ रखेंगी

डियर बॉलीवुड, होली के गानों में बरसों से कन्सेन्ट के कॉन्सेप्ट की धज्जियां क्यों उड़ाते आये हो?

जिस इंडिगो ने कुनाल कामरा को बैन किया है, उसके कर्मचारी कुछ दिन पहले अपने यात्री को पीट रहे थे

Open Letter: शुक्रिया पापा, मुझे असली 'मर्द' होने का मतलब सिखाने के लिए

तुमको मटर है पसंद, पर मुझे बिल्कुल नहीं भातीं ये हरी-हरी गोलियां. वी आर नॉट द सेम ब्रो !

Wake Up Sid: नए शहर की घबराहट से लेकर शहर से प्यार हो जाने तक, मेरे अंदर भी बसती है आइशा

धूम्रपान, शराब और ड्रग्स के दलदल में फंस रहा है बचपन, आपके बच्चों को है आपकी ज़रूरत

सवाल एक है और सालों से घूम रहा है. आख़िर मुझे कब तक ऐसे डर-डर के जीना पड़ेगा?

'मर्द को दर्द होता है' और समाज की सोच से जन्मीं इन 11 बातों से कुछ ज़्यादा ही होता है

Opinion: दिल्ली में 3 साल हो गए, पर अब भी शहर से इश्क़ तो दूर Crush भी नहीं आया

धरती पर किसी भी लड़की से पूछ लेना, पब्लिक टॉयलेट यूज़ करते हुए दिमाग़ में ये 14 बातें आई ही होंगी