हर व्यक्ति की अपनी निजी ज़िन्दगी होती है. हमें भी दिन के 24 घंटे में थोड़ा सा वक़्त अपने और अपनों के साथ बिताने का मन करता है. जिस दिन हम ख़ुद से बात नहीं कर पाते, वो दिन अधूरा सा लगता है.

सोचिये आप कहीं घूमने गए या फिर कुछ वक़्त अपने किसी करीबी के साथ बिताने गए और वहां आपके चारों तरफ़ सिर्फ़ फ़्लैश चमक रहे हों और माइक लिए लोग सवाल दाग रहे हों, कैसा लगेगा आपको? इतनी Attention पाकर कुछ लोगों को अच्छा महसूस हो सकता है, वहीं कुछ लोगों को इतनी Unwanted Attention नहीं भाएगी.

Source- HT

कुछ ऐसा ही होता है सेलेब्स के साथ, जिसका सबसे ताज़ा उदाहरण है ऐश्वर्या राय का. ऐश्वर्या अपने पिता के जन्मदिन के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए बच्चों के अस्पताल गईं थी. उन्होंने Cleft Lip के साथ पैदा हुए 100 बच्चों की सर्जरी Sponsor भी की थी. लेकिन वहां मौजूद फ़ोटोग्राफ़र्स ने अपने Shutters और Flash से वहां का माहौल अजीब सा कर दिया. ऐश्वर्या ने फ़ोटोग्राफ़र्स से मौके का और वहां मौजूद बच्चों का सम्मान करने की अपील की, लेकिन फ़ोटोग्राफ़र्स बाज़ ना आए, इसके बाद मजबूर होकर उन्हें फ़ोटोग्राफ़र्स पर चिल्लाना पड़ा.

इस घटना से जुड़े कई वीडियो सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगे. सोशल मीडिया ब्रिगेड ने ऐश्वर्या को भी नहीं बख़्शा. कुछ लोग ऐश्वर्या की हरकत को नौटंकी बताने लगे, तो कुछ लोग ये भी कहने से बाज़ ना आए कि मीडिया को बुलाने की क्या ज़रूरत थी?

ये पहली बार नहीं हुआ था. मीडिया से जुड़े लोगों और फ़ोटोग्राफ़र्स के कारण पहले भी कई सेलेब्स परेशानी उठानी पड़ी है.

Source- India.com

कुछ दिनों पहले माहिरा ख़ान और रणबीर कपूर की एक फ़ोटो आई थी. इस फ़ोटो में दोनों साथ में स्मोक करते नज़र आ रहे थे. इस फ़ोटो के कारण माहिरा को काफ़ी ज़िल्लत झेलनी पड़ी.

कई बार किसी हीरोईन के Wardrobe Malfunctioning को भी काफ़ी गलत तरीके से Highlight किया जाता है.

हम हमेशा भूल जाते हैं कि सेलेब्स और एक्टर्स भी इंसान ही होते हैं. वो हमेशा कैमरे और माइक से घिरे होते हैं, लेकिन इसका कहीं से ये मतलब नहीं है कि उन्हें हर वक़्त इन्हीं से घिरा होना अच्छा लगता है.

Source- Twitter

जब दिल्ली स्मोगमई हो गई थी तब उस धुंध के बहाने परिणिती चोपड़ा ने बेहिचक काफ़ी सारी शॉपिंग कर ली, मास्क के सहारे. ये तस्वीर भी उन्होंने बाद में शेयर की थी.

हमें ये तो नहीं पता कि विदेशों में सेलेब्स के साथ लोग कैसा बर्ताव करते हैं, पर हमारे यहां उनका जीना मुहाल कर दिया जाता है. कई बार हमने वीडियोज़ में बाहर के सेलेब्स को आराम से अपनी लाइफ़ ऐन्जॉय करते देखा है. वहीं बात अगर अपने देश की करें, तो कोई शोक सभा हो या खुशी का मौका या चैरिटी इवेंट, मीडियाकर्मी और फ़ोटोग्राफ़र्स कई बार मौके का सम्मान करना भूल जाते हैं.