हर दफ़्तर जाने वाले के मन में कभी न कभी ये ज़रूर आता है कि उसे नौकरी छोड़ कर ज़िन्दगी में कुछ और करने का मन करता है. इसके पीछे वजह होती है कम्पनियों में काम करने के बोरिंग तौर-तरीके. इनसे ज़िन्दगी नीरस और उबाऊ हो जाती है लेकिन इन कम्पनियों की भीड़ में कुछ ऐसी कम्पनियां भी हैं, जो अपने कर्मचारियों की ज़िन्दगी को आसान बनाने के लिए कुछ नियम बनती हैं. आज हम आपको ऐसी ही कम्पनियों के बारे में बता रहे हैं, जहां के नियम हैं सुपरकूल.

1.

Infosys इको-फ़्रेंड्ली और कम कीमत वाली परिवाहन सुविधा को बढ़ावा देता है. कर्मचारियों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. पुणे में इस कम्पनी ने 'अब बस करो' नाम की कैंपेन चलायी है और बेंगलुरु में कम्पनी कर्मचारियों को साइकिल से ऑफ़िस आने के लिए प्रेरित करती है.

2.

American Express, साउथ एशिया भी प्रदूषण कम करने में अपना योगदान देने के लिए कर्मचारियों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट इस्तेमाल करने को कहती है. यहां मंगलवार को कार से दफ़्तर न आने की परम्परा है.

3.

मुंबई की Future Group कम्पनी ट्रैफ़िक की समस्या को समझते हुए कर्मचारियों को अपने काम के घंटे तय करने की आज़ादी देती है. बस कर्मचारियों को आठ घंटे काम करना होता है.

4.

PricewaterhouseCoopers नई ब्रांच खोलते हुए कर्मचारियों की सुविधा का ख़्याल रखती है, ताकि कर्मचारी पर्सनल और प्रोफ़ेशनल लाइफ़ को अच्छे से बैलेंस कर सकें.

5.

Coca-Cola ने कर्मचारियों को आधा घंटा जल्दी आकर, जल्दी ऑफ़िस से निकलने की सुविधा दे रखी है, ताकि वो ट्रैफ़िक से बच सकें.

6.

Bacardi लोगों को घर से काम करने की आज़ादी देती है, ताकि वो ट्रैफ़िक में फंस कर अपना समय बर्बाद न करें.

7.

Microsoft कम्पनी की अपनी बसें हैं, जो कर्मचारियों को लाती और ले जाती हैं. इससे महिला कर्मचारी सुरक्षित महसूस करती हैं.

8.

Philips की गुड़गांव ब्रांच में अगर कर्मचारियों को अपना वाहन खड़ा करने की जगह नहीं मिलती, तो वो घर से भी काम कर सकते हैं.

9.

बेंगलुरु की SAP Labs में आने-जाने की कोई फ़िक्स टाइमिंग नहीं है. कर्मचारी जब चाहे आकर अपना काम ख़त्म कर के जा सकते हैं. अगर आप 6 की जगह चार घंटे में काम कर करते हैं, तो भी आप घर के लिए निकल सकते हैं. इसके अलावा, कमर्चारियों को हफ़्ते में एक दिन घर से काम करने की सुविधा भी दी जाती है.

10.

KPMG में आप कहीं से भी काम कर सकते हैं, बस काम अच्छा होना चाहिए. ये आपको आफ़िस आने के लिए बाध्य नहीं करते.

Source: Rcvj