दो महीने पहले बीएमसी चुनाव के दौरान लेखिका शोभा डे ने एक मुम्बई पुलिसकर्मी का मज़ाक उड़ाते हुए Twitter पर ​एक फ़ोटो शेयर की थी. ये तस्वीर मध्य प्रदेश के एक पुलिसकर्मी दौलतराम जोगावत की थी, जिसका वज़न काफ़ी ज़्यादा था. शोभा ने ट्वीट के साथ कटाक्ष करते हुए लिखा था 'मुम्बई में पुलिस का भारी बन्दोबस्त.'

ये तस्वीर वायरल हो गई, कुछ ने पुलिसकर्मी का मज़ाक उड़ाया, तो किसी ने शोभा की आलोचना की. लेकिन कहीं न कहीं ​ये बात इस पुलिसकर्मी के दिल पर लग गई.

दौलतराम ने इन दो महीनों में 15 किलो वज़न घटा लिया है. दरअसल जोगावत का इतना ज़्यादा वज़न 1993 में गॉल ब्लैडर के आॅपरेशन के बाद हुए हार्मोनल डिसआॅर्डर की वजह से हुआ था. शोभा के ट्वीट के बाद उन्हें ​इतना बुरा लगा कि उन्होंने वज़न घटाने की सर्जरी कराने की सोची. दौलतराम ने मुम्बई के सैफ़ी अस्पताल में आॅपरेशन करा, अपना वज़न घटा लिया.

अच्छी बात ये है कि इसी कारण दौलतराम के जीवन में एक सकारात्मक बदलाव आया है. उनका कहना है कि वो पहले से बेहतर मेहसूस कर रहे हैं. वो डॉक्टर द्वारा बताई गई डाइट फॉलो कर रहे हैं और रोज़ सुबह टहलने भी जाते हैं. सर्जरी करने वाले डॉक्टर मुफ़ाजल लकड़ावाला ने बताया कि अगले कुछ महीने में उनका वज़न 100 किलो तक हो सकता है.

Article Source- Hindustan Times