देश-दुनिया देखना, घूमना-फिरना भला किसे अच्छा नहीं लगता! मानव के व्यवहार में बदलाव की मांग एक अनिवार्य शर्त होती है. रोज़मर्रा की ज़िंदगी से हम जल्द ही उब जाते हैं. ख़ुद को तरो-ताज़ा करने के लिए हम कहीं घूमने चले जाते हैं. लेकिन अब तो घूमना-फ़िरना भी महंगा होने वाला है. अब आप क्या करेंगे? कुछ नहीं... ग़ज़बपोस्ट पढ़ते रहिए, हम आपको देश दुनिया का दीदार घर बैठे कराते रहेंगे.

दरअसल भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) की ओर से कुछ स्मारकों के प्रवेश शुल्क को दोगुना कर दिया गया है. एक नवंबर से नई दरें लागू होने की संभावना है. 14 सितंबर को इससे संबंधित विभाग ने अधिसूचना जारी कर दी है.

1. ताज महल

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने हाल ही में इसकी टिकट में बढ़ोत्तरी कर दी है. विदेशियों को अब इसके लिए 1250 और भारतीयों को 40 रुपये तक की जेब ढीली करनी होगी.
पहले भारतीयों के लिए टिकट के दाम- 20 रुपये
विदेशियों के लिए टिकट के दाम- 750

बढ़ोत्तरी के बाद भारतीयों की टिकट- 40 रुपये
बढ़ोत्तरी के बाद विदेशियों की टिकट- 1250 रुपये

Source: tajmahal

2. लाल क़िला

अमूमन दिल्ली के लोग रविवार को घूमने के लिए इधर-उधर जाते हैं, क्योंकि यहां की भाग-दौड़ भरी ज़िंदगी से लोग जल्द ही बोर हो जाते हैं. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की वेबसाइट पर इसकी टिकट 10 रुपये बताई गई है, लेकिन लाल क़िले के अंदर बने म्यूज़ियम की टिकटों को मिला कर घूमने-फ़िरने का पूरा खर्चा 30 रुपये तक बैठता है. पहले ये टिकट 15 रुपये का था.

Source: buzzintown

3. फतेहपुर सीकरी

मुगलों के बादशाह अकबर ने इसका निर्माण करवाया था. आगरा से थोड़ी ही दूरी पर है फतेहपुर सीकरी. यहां लोग क़िला, बुलंद दरवाज़ा और मज़ार देखने के लिए आते हैं. मुगल काल की खूबसूरती के नायाब नमूने यहां देखने को मिलते हैं.
पहले भारतीयों के लिए इसकी टिकट- 10 रुपये
विदेशियों के लिए टिकट- 260 रुपये

अब भारतीयों को 20 रुपये देने पड़ेगें और विदेशी मेहमानों को 500 रुपये की टिकट लेनी होगी.

Source: samaylive

4. सिकंदरा का क़िला

सिकंदरा का क़िला आगरा से लगभग 11 किलोमीटर की दूरी पर है. मुगल बादशाह अकबर ने अपने जीवन के अंतिम क्षण यहीं बिताये थे. जब कोई शख़्स ताज महल देखने जाता है तो वो सिकंदरा के क़िले का दीदार करना भी उचित समझता है.
पहले इसको देखने की टिकट 10 रुपये थी, लेकिन अब इसे देखने के लिए 20 रुपये चुकाने होंगे और विदेशी सैलानियों को पहले जहां 250 रुपये देने पड़ते थे अब 500 रुपये देने होंगे.

Source: khazano

5. इत्माद-उड़-दौला

संगमरमर के बने सबसे प्रथम मकबरों में से एक है इत्माद-उड़-दौला. इसे Baby Taj भी कहा जाता है. यहां जाने के लिए पहले आपको 10 रुपये देने पड़ते थे और विदेशी सैलानियों को 110 रुपये, लेकिन अब 20 रुपये और विदेशियों को 250 रुपये तक देने होंगे.

Source: bestindiangetaways

देखा, महंगाई डायन खाये जा रही है. अब कहीं मत जाईये बस इंटरनेट का रिचार्ज करवा कर ग़ज़बपोस्ट पढ़ते रहिए.