कुंभ मेले के दौरान आपने कई साधुओं के बारे में सुना होगा, जिनमें से कोई एक हाथ को पिछले 12 सालों से आकाश की तरफ किये था, तो किसी ने सालों अपना मौन व्रत नहीं तोड़ा होगा. असल ज़िंदगी में शायद ऐसा करना किसी भी शख़्स के लिए मुश्किल हो, पर कैलिफ़ोर्निया में रहने वाले Akahi Ricardo और Camila Castello ने ऐसा सच कर दिखाया है.

इस कपल का मानना है कि ज़िंदा रहने के लिए खाने और पानी की ज़रूरत नहीं है. आप सिर्फ़ प्रकृति पर भी विश्वास करके खुद को जीवित रख सकते हैं.

2008 से ही ये कपल हफ़्ते में सिर्फ़ तीन दिन ही फल का एक टुकड़ा खाता है.

कपल के इस काम में उनका 5 साल का बेटा और 3 साल की बेटी भी साथ देते हैं.

इस कपल का दावा है कि प्रसव के 9 महीनों के दौरान भी Camila सिर्फ़ हवा खा कर ही गुज़ारा कर रही थी.

9 साल पहले शादी करते समय इस कपल ने एक-दूसरे से वादा किया था कि फ़ूड-फ्री लाइफ़स्टाइल को अपनाएंगे.

Camila का कहना है कि इस लाइफ़स्टाइल को अपनाने के बाद खुद को पहले से ज़्यादा स्वस्थ महसूस कर रही हैं. खाने पर होने वाले ख़र्च की बचत से ये कपल घूमने के लिए पैसे बचाता है.

Akahi एक Breatharianism हैं और लोगों को भी इसके बारे में सिखाते हैं. Akahi का मानना है कि 'ये एक तरह से खाने से आज़ादी है कि आपको जीने के लिए इस पर निर्भर नहीं हैं.'

2005 में Akahi Ricardo और Camila Castello ने शादी की थी. इसके तीन साल बाद ही इन्हें Breatharianism के बारे में पता चला, जिससे प्रभावित हो कर इन्होंने धीरे-धीरे अनाज की जगह फल खाना शुरू कर दिया और आखिर में इस मुकाम पर पहुंच गए कि खुद को भूखा रख सकें.

Source: thesun