गौ रक्षा का फ़ैशन चल पड़ा है और रोज़ इसमें कोई नया ट्रेंड देखने को मिलता है. गुजरात देश के उन राज्यों में से है, जहां गौ रक्षा को लेकर काफ़ी सख्त कानून है. हाल ही में गुजरात की भाजपा सरकार ने गौ रक्षा कानून में कड़े बदलाव कर, इसे और मज़बूत बना दिया है. इसके अलावा, गुजरात सरकार Cow Startups को भी ख़ूब बढ़ावा दे रही है. उनका मानना है कि गांव-देहात में गाय के गौ मूत्र, गाय के दूध, गोबर को इकॉनमी का हिस्सा बनाया जा रहा है.

Source: WEP

इस काम में गाय पालन, गाय के दूध की सेल, गाय घी बेच कर छोटे-छोटे उद्योगों को बढ़ाने की कोशिश की जा रही है. ब्यूटी इंडस्ट्री में भी गाय के दूध क खूब इस्तेमाल किया जाएगा.

Source: theindianiris

गाय को आमदनी का ज़रिया बनाने के लिए गुजरात में गौ सेवा आयोग भी बनाया गया है. आजकल ये बड़े-बड़े उद्योगपतियों और इंडस्ट्री के लोगों से गौ स्टार्टअप में सपोर्ट मांग रहे हैं. इनका मानना है कि गाय को एक प्रोडक्ट के रूप में, एक इंडस्ट्री के रूप में अभी तक उतना नहीं इस्तेमाल किया गया है, जितना होना चाहिए.

इस तरह के स्टार्टअप का सबसे ज़्यादा फ़ायदा छोटे शहरों और गांव के लोगों को होगा, जिनके लिए ये आमदनी का ज़रिया बन सकता है.

Source: Times of India