भारत जैसे देश में आज भी कई मामलों से जुड़े अंधविश्वास हैं. अब Periods को ही ले लीजिए. देश के कुछ हिस्सों में जहां लड़की के Periods शुरू होने को धूम-धाम से Celebrate किया जाता है, वहीं कुछ हिस्सों में महीने के 'उन दिनों' में लड़कियों और औरतों को पूरे घर से अलग कर दिया जाता है.

हमने Periods के दौरान लड़कियों और अत्याचार के साथ होने वाले अछूत व्यवहारों के बारे में बहुत सुना है. कहीं रसोई में जाने की इजाज़त नहीं, तो कहीं घर के एक कोने में 5 दिनों के लिए पड़े रहो, तो कहीं Nail Paint, काजल, मेंहदी मत लगाओ वाले अजीबो-गरीब नियम.

Source: Woom Fertility

Menstruation से जुड़े मिथक इस कदर समाज में फैल गए हैं कि लोग ये तक भूल गए हैं, कि Periods भी उनके पैदा होने की एक वजह है. ये एक Natural Process है, फिर भी लोग Periods शब्द को लेकर इतने आतंकित हो जाते हैं, मानो कोई ख़तरनाक बीमारी हो. पता नहीं क्यों, कुछ लोग इस शब्द से ही असहज महसूस करते हैं.

लड़कियां भी आपस में कहती हैं, 'वो वाले दिन', 'Down हो गई हूं यार.' इसमें शर्म की क्या बात है? हम ये क्यों नहीं कहते कि 'मेरे Periods चल रहे हैं.' सोचने वाली बात है.

Source: Being Indian

Periods के दौरान बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. Cramps, Mood Swing, काम करने में परेशानी आदि. कामकाजी महिलाओं के लिए Extra परेशानी हो जाती है, अगर उनके बॉस पुरुष हों. ऐसे में अजीबो-गरीब बहाने बनाने पड़ते हैं.

Periods के दौरान महिलाओं को होने वाली तकलीफ़ और Periods से जुड़े Taboos को ध्यान में रखते हुए Culture Machine Pvt. Ltd. ने एक नई पॉलिसी Leave देने का निर्णय लिया है. 'First Day of Period Leave' नाम से, महिला कर्मचारियों के लिए एक Leave पॉलिसी लाने की सोची है.

Culture Machine अब अपने Female Employees को Periods के पहले दिन छुट्टी लेने की इजाज़त दे रही है. अब यहां की महिलाएं 'Sick Leave' के बजाय '#FOP' Leave के लिए ऐप्लाई कर सकती हैं.

इस पूरी मुहिम का सिर्फ़ एक मकसद है. Periods को लेकर महिलाओं को सहज महसूस करवाना. ये सोच देश की सारे Organisations में फैलाने के लिए Blush ने Change.org पर एक Petition की शुरुआत की है. अगर आपको ज़रा सा भी Periods Pain का अंदाज़ा है, तो आप भी Change.org पर जाकर इस Petition पर हस्ताक्षर कर सकते हैं.

https://www.change.org/p/period-leave-fop-as-policy

Culture Machine द्वारा ये एक ऐतिहासिक कदम है क्योंकि हम उस देश के वासी हैं जिस देश में Sanitary Napkin पर भी टैक्स लगाया जाता है.

Source: Being Indian