कहते हैं, अगर चाहो तो सबकुछ है, न चाहो तो सब होकर भी कुछ भी नहीं. कई बार हम उन चीज़ों की कद्र नहीं करते, जो हमारे पास होती हैं और क़िस्मत को कोसते रहते हैं. किसी भी चीज़ की कीमत कोई भी इंसान तभी समझ पाता है, जब वो चीज़ उस इंसान से छिन जाती है.

वक़्त और हालात कई बार, इंसान को मजबूर बना देते हैं. कुछ तो हार मानकर अपनी ज़िन्दगी से समझौता कर लेते हैं, वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो किस्मत से लड़कर दूसरों के लिए मिसालें बन जाते हैं.

Source: News Hub

America's Got Talent के Auditions में ये बात एक बार फिर साबित हो गई कि मन के हारे हार है, और मन के जीते जीत. Mandy Harvey, कोई आम गायिका जैसी नहीं हैं. Mandy, शो के Judges से बातें तो कर रही थी, पर एक Translator के सहारे, जो Judges की बातें Sign Language के द्वारा Judges की बात Mandy तक पहुंचा रही थी.

18 साल की उम्र में ही Mandy ने एक बीमारी के कारण अपनी सुनने की क्षमता खो दी थी. Mandy ने बताया कि वो 4 साल की उम्र से गाती थीं, पर सुनने की क्षमता के खो जाने के बाद संगीत से उनका नाता टूट गया था.

शो पर Mandy ने ख़ुद का एक गीत गाया जिसने वहां मौजूद कई लोगों की आंखें नम कर दी.

Source: Daily nhely

Performance से थोड़ा पहले Mandy ने अपने जूते उतार दिए ताकि वो Vibrations से Beat और Tempo को महसूस कर सकें.

Audience ने हवा में हाथ हिलाकर, Mandy का उत्साह बढ़ाया. Judge Simon Cowell ने Golden Buzzer दबा कर Mandy को सीधे Semi-Final का टिकट दे दिया.

आप भी सुनिए Mandy की सुनहरी आवाज़-

Source: Scroll