हिंदुस्तान में 'महिला सुरक्षा' सभी के लिये एक बड़ा सवाल है. देश की सड़कों पर आधी रात को कोई भी महिला बिना डरे नहीं घूम सकती, लेकिन कामकाजी महिलाओं को आधी रात में भी बाहर निकलना पड़ सकता है. ऐसी ही महिलाओं में नेहा दास भी है.

Source: pixabay
वहीं जैसे ही नेहा अपने घर पहुंच कर उसे पैसे देने लगी, तो ऑटो वाले ने ये कह कर पैसे लेने से मना कर दिया कि 'मैडम मैं इतनी रात में लड़कियों से कुछ नहीं लेता, उन्हें ठीक से घर पहुंचाना ज़्यादा ज़रूरी है.'

ऑटो वाले की ये बातें सुनकर नेहा ख़ुश तो थी ही साथ ही हैरान भी. शायद इसी वजह से अपनी पोस्ट के ज़रिये उसकी तारीफ़ किये बिना नहीं रह पाईं. नेहा के पोस्ट डालते ही कई लोग इस ऑटो वाले के फ़ैन हो गये.

काश! प्रवीन जैसी सोच हर किसी की होती, तो भी महिला रात में बाहर निकलने से न डरती.