आपको याद होगा इस हफ़्ते यूनाइटेड एयरलाइन्स की अपने एक यात्री को जबरन प्लेन से निकाल देने की ख़बर वायरल हो रही थी. इस ख़बर के वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर एयरलाइन्स की जम कर आलोचना की गयी. अब एक ऐसी ख़बर आई है, जिससे साबित होता है कि सभी एयरलाइन्स अपने यात्रियों के साथ ग़ैरज़िम्मेदाराना बर्ताव नहीं करतीं.

डेल्टा एयरलाइन्स ने प्लेन से उतरने के लिए एक परिवार को सात लाख रुपये से ज़्यादा की रकम अदा की है. लेखिका Laura Begley Bloom ने अपनी कहानी शेयर करते हुए बताया कि उन्हें एक वीकेंड पर फ़्लोरिडा न भेज पाने के कारण एयरलाइन्स ने उन्हें ये रक़म दी थी.

Bloom अपने पति और बेटी के साथ न्यूयॉर्क से फ़्लोरिडा जा रही थीं. प्लेन में ओवरबुकिंग होने पर लोगों को सीट छोड़ने के लिए पैसे ऑफ़र किये गए थे. अगले दिन भी ख़राब मौसम के कारण कई फ़्लाइट्स रद्द हुईं थीं, तब उन्हें दोबारा पैसे दिए गए. और इस तरह उन्हें दो बार फ़्लाइट छोड़ने के लिए सात लाख से ज़्यादा रुपये दिए गए. सीट छोड़ने के लिए कई यात्रियों ने उनका शुक्रिया अदा किया.

वहीं दूसरी तरफ़ यूनाइटेड एयरलाइंस ने फ़्लाइट नंबर- 3411 में यात्रा का रहे डॉक्टर के साथ जो बर्ताव किया, वो निंदनीय है. इस फ़्लाइट से ही एयरलाइंस के कुछ क्रू मेंबर्स को जाना था. क्योंकि विमान में एयरलाइन क्रू मेम्बर्स के बैठने के लिए जगह नहीं थी, इसलिए हवाईअड्डे के सुरक्षाकर्मियों की मदद से फ़्लाइट में बैठे एशियन मूल के एक डॉक्टर को घसीटते हुए फ़्लाइट से जबरन बाहर निकाल दिया गया. यात्री से बदसुलूकी की इस पूरी घटना में डॉक्टर को चोट भी आई और उनके मुंह से खून भी निकलने लगा.

गौरतलब है कि पिछले एक महीने में इस प्रकार की ये दूसरी घटना है. कुछ दिनों पहले यूनाइटेड एयरलाइन्स ने दो लड़कियों को फ़्लाइट में सफ़र करने से इसलिए रोक दिया था, क्योंकि उन्होंने लेगिंग्‍स पहनी हुई थी. उस वक़्त भी सोशल मीडिया पर अमेरिका की यूनाइटेड एयरलाइन्स के खिलाफ़ लोगों ने जमकर नाराज़गी ज़ाहिर की थी.

यूनाइटेड एयरलाइंस को यकीनन डेल्टा एयरलाइंस और बाक़ी एयरलाइन्स से सीखना चाहिए कि यात्रियों से कैसा व्यव्हार किया जाना चाहिए.

Source: Cosmopolitan