कुछ कुछ होता है, अंजलि, तुम नहीं समझोगी... ख़ैर अंजलि समझे या न समझे, पर आप तो समझ ही गए होंगे कि ये किस फ़िल्म का डायलॉग है. इस फ़िल्म में एक छोटा सरदार भी था, जिसने पूरी फ़िल्म में सिर्फ़ इशारे ही किए थे. पर आख़िर में जा कर एक डायलॉग बोला था, जो आज तक हम एक दूसरे को बोलते ही हैं.

परज़ान दस्तूर, जिसे फ़िल्म में देख कर हम Awwww Awww करते नहीं थकते अब Tall, Dark and Handsome नौजवान बन गए हैं, जिन पर लड़कियों की नज़र ठहर ही जाएगी. Being Indian को दिए एक Interview में उन्होंने अपने बारे में बात की.

अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद, परज़ान फ़िल्मों में वापसी कर रहे हैं. अब वे पूरी तरह से फ़िल्मों पर Concentrate करेंगे. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि पिछले कुछ सालों में उन्होंने बतौर सह-निर्देशक भी काम किया है.

अपन बारे में बताते हुए परज़ान ने कहा:

'मुझे बहुत हैरानी होती है कि इतने सालों बाद भी लोगों ने मुझे याद रखा है. बहुत से लोगों ने मुझसे कहा कि मेरी शक्ल बिल्कुल पहले जैसी ही है, खासकर मेरी मुस्कुराहट. मैं बहुत ख़ुशनसीब हूं.'

Child Actor के तौर पर बड़े होने के अनुभव पर परज़ान ने कहा:

'लोगों को लगता है कि Child Actor के तौर पर मुझे बहुत सी रियायतें मिली होगी. पर मेरे माता-पिता ने मुझे खुली छूट नहीं दी, आम बच्चों की तरह ही, मुझे भी बड़ा किया गया.'

भाई-भाई में झगड़े तो होते ही हैं, बचपन में आपस में झगड़ने का भी अलग ही मज़ा था. अपने बचपन के अनुभवों के बारे में बात करते हुए Being Indian से उन्होंने कहा, 'बाक़ी घरों में जैसा होता था, मेरे घर में भी हालात वैसे ही थे. मेरे छोटे भाई को वो सब चाहिए था, जो मेरे पास था. चाहे वो खेलने की चीज़ हो, या खाने-पीने की. बड़े भाई होने के नाते आपको Adjust करना ही पड़ता है. अब हम दोनों में बहुत पटती है. पर बचपन में मुझे बहुत Adjust करना पड़ा था.'

Being Indian के Latest वीडियो में भी उन्होंने काम किया है. इस वीडियो में वो स्नेहल का किरदार निभा रहे हैं

यहां देखें, Why We Love Adjusting का वीडियो: