‘Friendship Day With Wagging Tails’ के तहत सड़क पर रहने वाले कुत्तों के लिए निशा सुहंदा ने एक नेक काम कर रही हैं. मुंबई में वो कुत्तों को रेडियम फ्रेंडशिप बैंड्स बांध रही हैं, जो रात को उन्हें दुर्घटनाओं से बचा सकते हैं. कुत्तों को ये बैंड गले में पट्टे की तरह बांधे जा रहे हैं.

Source: Maciejdakowicz

इससे वो गाड़ी चलाने वालों को अंधेरे में भी नज़र आ सकेंगे और एक्सीडेंट कम होंगे. सुहंदा ने बताया कि हर रात सड़कों पर 45 से 50 कुत्ते एक्सीडेंट का शिकार होते हैं. ओम संस्था के बीस सदस्यों ने मिल कर इस काम को पूरा किया.

जानवरों के लिए इतना सोचना और करना वाकयी एक सराहनीय कदम है, उम्मीद है इससे दुर्घटनाएं कम होंगी.

Feature Image: Cdn

Source: Thebetterindia