मुंबई के गवर्मेंट पॉलिटेक्निक कॉलेज की प्रिंसिपल स्वाति देशपांडे ने Polycystic Ovary Disorder (PCOD) बीमारी की एक बेतुकी वजह बतायी है. हार्मोनल इम्बैलेंस के कारण होने वाली इस बीमारी के कारण औरतें मां नहीं बन पाती हैं.

प्रिंसिपल ने इस पर सेक्सिस्ट टिप्पणी करते हुए कहा है कि जब औरतें मर्दों जैसे कपड़े पहनती हैं, तो वो उनके जैसे ही सोचने लगती हैं और वैसा ही व्यवहार करने लगती हैं. इससे मां बनने की इच्छा बचपन से ही मरने लगती है और आगे जाकर (PCOD) जैसी बीमारियां होती हैं.

इस बेतुकी थ्योरी पर उनका इतना विश्वास है कि अब कॉलेज में लड़कियों के लिए ऐसी यूनिफ़ॉर्म बनवाना चाहती हैं, जो उन्हें इस तरह की बीमारियों से दूर रख सके. वो चाहती हैं कि सभी लड़कियां शालीन सलवार-कमीज़ पहनें और पैंट-शर्ट से दूर रहें.

कॉलेज की एक स्टूडेंट ने ये भी बताया कि कॉलेज में लड़कियों पर चोटी बना कर आने के लिए भी दबाव बनाया जा रहा है. इसके अलावा, उन्हें शर्ट भी पैंट से बाहर रखने के लिए कहा जा रहा है. कॉलेज की कैंटीन में भी नोटिस लगाया गया है कि Sexual Harassment रोकने के लिए लड़के और लड़कियां अलग-अलग बैठें.

एक प्रिंसिपल से इस तरह के तर्क सुन कर लड़कियां इस थ्योरी पर #DressLikeAnIndianWoman से ट्वीट कर रही हैं और ये हैशटैग ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा है.

ऐसी बेतुकी थ्योरी देने के बाद स्वाति देशपांडे बिलकुल ये डिज़र्व करती हैं.

Source: Buzzfeed