17 साल बाद एक बार फिर से भारत की बेटी ने देश का नाम रौशन कर दिया . बीते शनिवार हरियाणा की मानुषी छिल्लर ने मिस वर्ल्ड-2017 का ताज अपने नाम कर लिया. चीन के सान्या में आयोजित मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में मानुषी ने दुनियाभर की 118 प्रतियोगियों को पछाड़ते हुए, ख़िताब पर कब्ज़ा जमा लिया.

Image Source : indiatoday

मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता में दूसरे नबंर पर मिस मैक्सिको और तीसरे नबंर पर मिस इंग्लैंड रहीं. मिस वर्ल्ड का क्राउन जीतने वाली 20 साल की मानुषी सोनीपत के भगत फूल सिंह मेडिकल कॉलेज में MBBS 2nd ईयर स्टूडेंट भी हैं. ज़ाहिर सी बात है कि उनका ये सफ़र बिल्कुल भी आसान नहीं रहा होगा. आख़िर वो कौन सा सवाल था, जिसका जवाब देकर वो विश्व सुंदरी बन गईं?

दरअसल, फ़ाइनल राउंड में जब मानुषी से पूछा गया कि उनके मुताबिक, किस प्रोफ़ेशन में सबसे ज़्यादा सैलरी मिलनी चाहिए और क्यों? जूरी के इस सवाल का बड़ी ही सादगी से जवाब देते हुए उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि मां की काम सबसे ऊंचा होता है. वो हमारे लिए कितना कुछ Sacrifice करती हैं. इसके लिए उन्हें कैश सैलरी नहीं, बल्कि प्यार और सम्मान मिलना चाहिए. मेरी मां मेरी ज़िंदगी की सबसे बड़ी प्रेरणा है.'

आगे मानुषी कहती हैं कि मां अपने बच्चों के लिए बहुत त्याग करती है, इसीलिए वो सबसे अधिक वेतन की हकदार है.

इसके बाद जैसी ही जूरी ने उन्हें मिस वर्ल्ड घोषित किया. मानुषी की आंखों से ख़ुशी के आंसू छलक पड़े. पिछले साल की विजेता मिस प्यूर्टोरिको स्टेफ़नी डेल वैले ने उन्हें क्राउन पहनाया.

2002 में प्रियंका चोपड़ा ने देश का नाम रौशन किया था और अब 17 साल भारत की झोली में ये अवॉर्ड आना, बहुत गर्व की बात है. हरियाणा की इस छोरी पर हम सभी को नाज़ है और उनके इस जवाब के बाद हम सभी हम सब उनके फ़ैन भी बन गए हैं.

Video Source : Voice Of Reason

एक बार फिर से Congratulations मानुषी!