हम 2017 के आखिर में पहुंच चुके हैं. ये साल भी कैसे बीता पता ही नहीं चला. 2017 के अधूरी Resolutions को 2018 में पूरी करने की भी तैयारी कर ली हमने.

इसके बीच वैज्ञानिकों ने कुछ डरावने खुलासे किए हैं. वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि साल 2018 में Earthquakes की संख्या बढ़ेगी. वैज्ञानिकों का कहना है कि धरती के Rotation की गति कम रही है और इससे धरती के अंदर की Seismic Activity भी बढ़ जाएगी.

Source- Daily Star

धरती के Rotation की गति में कमी आने का मुख्य कारण है चंद्रमा और धरती के बीच का Tidal Force.

वैज्ञानिकों का कहना है कि 2017 बहुत आराम से बीत गया क्योंकि इस साल सिर्फ़ 6 भयंकर भूकंप आए. धरती के Rotation की गति कम होने से दिन की लंबाई में काफ़ी छोटा सा परिवर्तन आएगा.

Source- The Guardian

धरती के Rotation और Seismic Activity के विषय में पिछले महीने एक पेपर में छपा था. Geological Society of America के सालाना मीटिंग में University of Colorado के Roger Bilham और University of Montanna के Rebecca Bendick ने ये पेपर प्रस्तुत किया था.

1900 से अब तक के 7 Magnitude वाले सारे भूकंपों पर Bilham और Bendick ने शोध किया और इस भयंकर नतीजे पर पहंचे. इस शोध में उन्हें 5 पीरियड मिले जिसमें ज़्यादा भूंकप आए थे. इन 5 पीरियड्स में 25 से 30 प्रतिशत तक ज़्यादा भूकंप आए थे.

Source- Daily Mail

कुछ दिनों पहले ही इरान-इराक के बोर्डर 7.3 तीव्रता का भयंकर भूकंप आया था जिसमें 400 से ज़्यादा लोग मारे गए थे और 6000 से ज़्यादा घायल हुए थे. इस भूकंप के बाद लोगों ने 100 से ज़्यादा Aftershocks भी महसूस किए.

Source- Daily Mail