किसी भी कहानी में अक्सर तीन किरदार ज़रूर होते हैं नायक, नायिका और विलेन. कहानी के लिए हर किरदार ज़रूरी होता है. अक्सर विलेन मुख़्य किरदारों को परेशानी में डालते हैं जिसकी वजह से लोग उनसे नफ़रत करने लगते हैं.

इसी तरह हमारे टीवी सीरियल में कई ऐसे किरदार रहे जिन्होंने नेगेटिव भूमिका निभाई और कई लोगों ने इन किरदारों को इतने अच्छे से निभाया जिन्हें देखकर ही दिल की धड़कनें बढ़ जाएं.

आइये देखते हैं ऐसे कौन से 10 किरदार रहे:

1. रमोला सिकंद (सुधा चंद्रन) - कहीं किसी रोज़

यार बचपन में 'कहीं किसी रोज़' सीरियल में सुधा चंद्रन को देख कर ही डर लगता था. सुधा चंद्रन इस सीरियल में रमोला सिकंद का रोल निभा रहीं थीं. टीवी स्क्रीन पर रमोला सिकंद के आते ही बजने वाला बैकग्राउंड म्यूज़िक और रमोला सिकंद की बिंदी और उन्हें ज़्यादा ख़तरनाक बना देती थीं.

Source: gunmolls

2. जिज्ञासा वालिया (अश्वनी खलसेकर) - कसम से

कसम से की जिज्ञासा अपनी चालाकी और शातिर चालों से डरा कर रखती थी. अरे सच, कसम से! जिज्ञासा का शातिरपन हमेशा गुस्सा भी दिलाता था और डर भी पैदा करता था.

Source: pinterest

3. महम अंगा (अश्वनी खलसेकर) - जोधा अकबर

अश्वनी जिज्ञासा के रोल में जितना ख़ौफ़ बनाती हैं उससे ज़्यादा खौफ़ वो महम अंगा के रोल में पैदा करती हैं. अपने अजीबो-ग़रीब प्लान्स और ख़तरनाक मुस्कराहट तो जान ही ले लेती थी.

Source: Twitter/suzaandsouza23

4. ठाकुर सज्जन सिंह (अनुपम श्याम) - मन की आवाज़ प्रतिज्ञा

अनुपम श्याम ने ठाकुर सज्जन सिंह कैरेक्टर में जान डाल दी थी. अपने ठेठ अंदाज़ और शारीरिक हाव-भाव से सज्जन सिंह सीरियल के दूसरे कैरेक्टर्स पर तो रौब ज़माने में सफ़ल रहते ही हैं साथ ही देखने वालों पर भी अपना रौब जमा पाते हैं.

Source: tellychakkar

5. नित्या नंदा (अमृता सिंह) - काव्यांजलि

बड़े परदे परदे अपना जलवा बिखरने वाली अमृता सिंह ने छोटे परदे पर भी ख़ूब कमाल किया. काव्यांजलि टीवी सीरियल में नित्या नंदा एक षड्यंत्र रचने वाली मां थीं. इस रोल को अमृता सिंह ने इतनी खूबसूरती ने निभाया है कि दर्शक बिना नफ़रत किये ना रह पाएं.

Source: idiva

6. कल्याणी देवी (सुरेखा सीकरी) - बालिका वधू

सुरेखा सीकरी ने हमें कई यादगार कैरेक्टर दिए मगर बालिका वधु वाली दादीसा के रोल में वो ख़ूब जंचीं थीं. बालिका वधू में रूढ़िवादी कल्याणी देवी अपने अटल फ़ैसलों और जबरन की ज़िद के चलते सबको डरा कर रखती थीं.

Source: facebook

7. अम्माजी (मेघना मलिक) - ना आना इस देश लाडो

ये सीरियल एक गांव की कहानी थी जहां बेटियों की जन्म के बाद ही हत्या कर दी जाती है. मेघना मलिक ने अम्माजी का किरदार निभाया है जो एक तानाशाह जैसी हैं. अम्माजी के किरदार में मेघना मलिक ने जान फूंक दी.

Source: santabanta

8. गंगिया (सुष्मिता मुखर्जी) - अगले जनम मोहे बिटिया ही कीजो

2009 में आने वाला ये टीवी सीरियल अपने समय का बड़ा हिट साबित हुआ था. इस सीरियल में गंगिया के रोल में सुष्मिता मुखर्जी नज़र आयीं थीं. सुष्मिता का ये किरदार अहंकारी और अवसरवादी था. गंगिया के स्क्रीन पर आते ही पता चल जाता था कुछ बुरा होने वाला है.

Source: tellychakkar

9. विराज डोबरियाल (करणवीर बोहरा) - दिल से दी दुआ...सौभाग्यवती भव?

इस टीवी सीरियल में नेगटिव किरदार में नज़र आये थे करणवीर बोहरा. करणवीर ने विराज का किरदार निभाया था जो अड़ियल है, धूर्त है. करणवीर बोहरा की ये परफॉरमेंस बहुत ही सही थी.

Source: facebook

10. कोमोलिका मजूमदार (उर्वशी ढोलकिया) - कसौटी ज़िंदगी की

नेगेटिव रोल की बात को और कोमोलिका का ज़िक्र हो ऐसा संभव ही नहीं है. कोमोलिका के किरदार को उर्वशी ढोलकिया ने एक अलग ही दुनिया में लाकर खड़ा कर दिया. उर्वशी ने इस सीरियल में इतनी बेहतरीन एक्टिंग की है कि इस रोल के लिए उन्हें 3 बार बेस्ट एक्ट्रेस इन अ नेगेटिव रोल के लिए इंडियन टेली अवार्ड मिला.

Source: boldsky

ये नेगेटिव किरदार कहानी कहानी के लिए ज़रूरी होते हैं. इनकी वजह से कहानी रोचक बनी रहती है. इनके बिना कहानी आगे बढ़ना संभव ही नहीं है.