अभिनेत्री कंगना रनौत इस समय कई चीज़ें एक साथ हैंडल कर रही हैं. कभी वो Nepotism पर सवाल उठा रही हैं. कभी बॉलीवुड में चल रही ड्रग तस्करी पर. कभी वो ख़ुद को राष्ट्रवादी बता रही हैं. कभी बॉलीवुड पर अजीबोग़रीब इल्ज़ाम लगा रही हैं. कंगना के बारे में ज़्यादा सोचने पर लगता है कि उनमें एक नेता बनने के सारे गुण मौजूद हैं.

वो इसलिये, क्योंकि कभी-कभी कंगना मुद्दे से भटक कर बात को कहीं से कहीं ले जाती हैं. एक तरफ़ वो ख़ुद को आउटसाइडर्स का हितैषी बता रही हैं, दूसरी तरफ़ उन्हें बेवजह डिबेट में घसीट रहीं. एक से ज़्यादा बार ऐसा हुआ है, जब कंगना ने Nepotism के युद्ध में आउटसाइडर्स को टारगेट कर डाला.

1. उर्मिला मातोंडकर

ताज़ा मामला उर्मिला मातोंडकर का है. उर्मिला बॉलीवुड की जानी-मानी एक्ट्रेस हैं. उन्होंने अपने समय में कई सुपरहिट और धमाकेदार फ़िल्में की. पर कंगना रनौत को न जाने क्या सूझी की उन्होंने उर्मिला को सॉफ़्ट-पॉर्नस्टार कह डाला. वैसे शायद ज़्यादा बोलने के चक्कर में कंगना ये भूल गईं कि उर्मिला ने बॉलीवुड में अपनी जगह ख़ुद बनाई.

2. तापसी पन्नू

साउथ इंडस्ट्री से निकल कर तापसी पन्नू ने बॉलीवुड में क़दम रखा. आज तापसी जो भी हैं, वो ख़ुद के दम पर हैं. कुछ सालों में तापसी ने अपनी एक्टिंग से लोगों का दिल जीत लिया. हांलाकि, पता नहीं कंगना को ये सब क्यों नहीं दिखा और उन्होंने तापसी को बी-ग्रेड एक्ट्रेस कह कर डिबेट में घसीट लिया.

3. आयुष्मान ख़ुराना

सबका छोड़ो कंगना मैम आयुष्मान ख़ुराना का क्या क़सूर था? आयुष्मान ख़ुराना के टैलेंट के बारे में तो पूरी दुनिया जानती हैं. कैसे एक आरजे रियलिटी शो के ज़रिये बॉलीवुड में पहुंचा. इसके बाद एक्टिंग, संगीत और शायरी से लोगों को मोह लिया. आप उन्हें चापलूस आउटसाइडर कैसे कह सकती हैं?

4. स्वरा भाष्कर

कंगना की ज़ुबानी वार से स्वरा भाष्कर भी अछूती नहीं हैं. 'रिपब्लिक भारत' को दिये इंटरव्यू में उन्होंने तापसी के साथ-साथ स्वरा भाष्कर को बी-ग्रेड एक्ट्रेस बताया था. इसके अलावा Needy आउटसाइडर भी कहा.

5. दीपिका पादुकोण

अफ़सोस के साथ कहना पड़ा है कि इस लिस्ट बॉलीवुड की बेहतरीन एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण भी शामिल हैं. कंगना रनौत ने दीपिका की मेंटल हेल्थ जागरुकता पर भी सवाल उठाये और उसका मज़ाक बनाया.

कुल मिला कर कंगना आउटसाइडर का सपोर्ट भी कर रही हैं और इंडस्ट्री में जो आउटसाइडर पहचान बना चुके हैं, उन पर भी सवाल उठा रही हैं. कहें तो कहें क्या.