फ़िल्मों के जिन गानों को आप अपने फ़ोन की प्ले लिस्ट में लूप पर सुनते हैं या टीवी में आते ही टीवी की वॉल्यूम बढ़ा देते हैं. कभी सोचा है उन गानों के पीछे कितने लोगों की मेहनत होती है. आपको टीवी पर बस कुछ स्टार्स दिखते हैं और वही आपके लिए उस गाने का चेहरा हो जाते हैं. मगर उन गानों के पीछे जो लोग होते हैं, जिनके तालमेल का नतीज़ा आपके फ़ेवरेट गाने होते हैं. एक गाने के पीछे कई लोग होते हैं जैसे उसे लिखने वाले, संगीत देने वाले, गाने वाले और उस पर परफ़ॉर्म करने वाले.

आज हम आपको बेहतरीन गाने देने वाले कुछ कंपोज़र और लिरिस्ट की जोड़ी से रू-ब-रू कराएंगे.

1. विशाल भारद्वाज और गुलज़ार

Vishal Bharadwaj and Gulzar
Source: mid-day

विशाल भारद्वाज बॉलीवुड के बेहतरीन फ़िल्म निर्माताओं और संगीतकारों में से एक हैं, उन्होंने कभी भी गुलज़ार को छोड़कर किसी अन्य गीतकार के साथ काम नहीं किया. इन दोनों की जोड़ी ने बहुत से सुपरहिट गीत दिए हैं. इन्होंने साथ में 2006 में आई फ़िल्म ‘ओमकारा’ में काम किया था. इनका बेस्ट सॉन्ग फ़िल्म 'इश्क़िया' का 'अब मुझे कोई इंतज़ार कहां' है.

2. शंकर-एहसान-लॉय और जावेद अख़्तर

Shankar-Ehsaan-Loy and Javed Akhtar
Source: prokerala

'दिल चाहता है’ की रिलीज़ के बाद शंकर-एहसान-लॉय और जावेद अख़्तर के गानों को काफ़ी पसंद किया जाने लगा. जावेद अख़्तर के अलावा फ़रहान अख़्तर, करण जौहर, निखिल आडवाणी और ज़ोया अख़्तर जैसे निर्देशक भी शंकर-एहसान-लॉय के साथ काम करना चाहते हैं. शंकर-एहसान-लॉय और जावेद अख़्तर की जोड़ी की बेस्ट फ़िल्म 'दिल चाहता है' बेस्ट सॉन्ग फ़िल्म 'कल हो न हो' का टाइटल ट्रैक है.

3. प्रीतम और अमिताभ भट्टाचार्य

Pritam and Amitabh Bhattacharya
Source: indianexpress

प्रीतम और अमिताभ भट्टाचार्य ने साथ मिलकर कई बेहतरीन गाने दिए. इन्होंने महेश भट्ट की फ़िल्मों के लिए भी कई गाने किए हैं. इनकी साथ में बेस्ट फ़िल्म 'ये जवानी है दीवानी' और बेस्ट सॉन्ग 'राब्ता' है.

4. जयदेव और साहिर लुधियानवी

Jaidev and Sahir Ludhianvi
Source: dawn

जयदेव और साहिर लुधियानवी ने केवल 5 एलबम्स में एक साथ काम किया है और इसका कारण ये है कि जयदेव ने वास्तव में अपने करियर में ज़्यादा फ़िल्में नहीं की थीं, लेकिन इन दोनों का मिलकर बनाया हर गीत अविस्मरणीय है. अगर इनकी बेस्ट फ़िल्म की बात करें तो 1961 में आई फ़िल्म 'हम दोनों' और बेस्ट सॉन्ग 'मैं ज़िंदगी का साथ' और 'अभी न जाओ छोड़कर' है.

5. शांतनु मोइत्रा और स्वानंद किरकिरे

Shantanu Moitra and Swanand Kirkire
Source: indianexpress

दोनों ने सुधीर मिश्रा की 'हज़ारों ख़्वाहिशें ऐसी' में एक साथ शुरुआत की थी. उसके बाद शांतनु ने अपनी ज़्यादातर फ़िल्में स्वानंद के साथ कीं. इनकी साथ में बेस्ट फ़िल्म 'परीणिता' और बेस्ट सॉन्ग 'बावरा मन देखने चला एक सपना' है.

6. ए.आर. रहमान और इरशाद क़ामिल

ar rahman and irshad kamil
Source: thecinemaholic

ए.आर. रहमान और इरशाद क़ामिल ने कई फ़िल्मों के गानों पर साथ में काम किया है. उनके गाने लोगों का दिल जीत लेते हैं. इन्होंने 'रॉकस्टार' और 'तमाशा' फ़िल्म के गानों पर साथ काम किया है.

Entertainment से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.