पहले के मुक़ाबले आज की एक्शन फ़िल्में काफ़ी विकसित हो चुकी हैं. अब तकनीक की मदद से एक्शन फ़िल्में एक अलग और हाई स्तर पर तैयार की जाने लगी हैं. पर 90 के दशक में ऐसा नहीं था. तब एक्शन सीन्स (Action Scenes) के लिये इंटरनेट या किसी टेक्नीक का सहारा नहीं लिया जाता था. 90s के एक्शन सीन्स अभिनेता अपने दम पर शूट करते थे. यही वजह थी कि एक्शन सीन्स करते हुए कई स्टार घायल भी हो जाते थे.

बस इसलिये 21वीं सदी में भी 90s की इन फ़िल्मों का कोई मुक़ाबला नहीं है और इन्हें जितनी बार देखो कभी बोर नहीं सकते.

ये भी पढ़ें: हॉलीवुड के इन 5 एक्शन स्टार्स ने दिखा दिया कि एक्शन सीन करने में उम्र कोई मायने नहीं रखती 

1. ज़िद्दी

अगर आप एक्शन फ़िल्मों के शौक़ीन हैं, तो आपको सनी देओल की फ़िल्म 'ज़िद्दी' ज़रूर देखनी चाहिये. फ़िल्म में आपको सनी देओल का एक एंग्री और 'ज़िद्दी' अवतार देखने को मिलेगा.

ज़िद्दी
Source: twimg

2. हम

'हम' बॉलीवुड की मसाला फ़िल्मों में से एक है. फ़िल्म एक्शन, रोमांस और कॉमेडी से भरपूर थी, जिसमें रजनीकांत, गोविंद और बिग बी की जोड़ी ने मिल कर धमाल मचा दिया था.

हम
Source: amazon

3. फूल और कांटे

इस फ़िल्म से अजय देवगन ने अपने करियर की शुरुआत की थी. इसके साथ ही धमाकेदार स्टंट (Stunt) की भी. 'फूल और कांटे' बॉलीवुड की बेस्ट एक्शन फ़िल्मों में गिनी जाती है.

फूल और कांटे
Source: jagranimages

4. घातक

जब बात 90s की बेस्ट एक्शन मूवीज़ (Action Movies) की हो रही है, तो फिर भला 'घातक' फ़िल्म को कैसे भूल सकते हैं. फ़िल्म ने न सिर्फ़ दर्शकों का मनोरंजन किया, बल्कि सनी देओल को उनकी क़ाबिलियत साबित करने का मौक़ा भी दिया.

घातक
Source: amarujala

5. वास्तव

'वास्तव' संजय दत्त के करियर की बेस्ट फ़िल्मों में से एक है, जिसमें उनकी एक्टिंग ने लोगों को 'वास्तव' में डरा दिया था.

वास्तव
Source: indianexpress

6. सत्या

रामगोपाल वर्मा की फ़िल्म 'सत्या' ने मनोज बाजपेयी के करियर को नई उड़ान और पहचान दी थी. फ़िल्म की कहानी, एक्शन और मनोज बाजपेयी की एक्टिंग ने लोगों को खूब एंटरटेन किया.

घातक
Source: indiansinkuwait

7. खिलाड़ियों के खिलाड़ी

आज भले ही अक्षय कुमार देशभक्ति फ़िल्मों के लिये जाने जाते हैं, लेकिन 90s में वो अपने एक्शन ड्रामा के लिये भी बेहद मशहूर थे.

खिलाड़ियों के खिलाड़ी
Source: tosshub

8. मोहरा

अक्षय कुमार, रवीना टंडन और सुनील दत्त स्टारर फ़िल्म 'मोहरा'  में दर्शकों को ख़ूब मार-धाड़ देखने को मिली थी.

मोहरा
Source: tumblr

ये भी पढ़ें: कॉमेडी, रोमैंटिक या एक्शन, फ़िल्म कैसी भी हो, बॉलीवुड के इन 14 किरदारों का अंदाज़ एक सा ही होता है 

मॉर्ड़न ज़माने में कितनी ही एक्शन फ़िल्में क्यों न आ जायें, लेकिन 90s के फ़िल्मों जैसी रियलिटी देखने को नहीं मिलेगी. शायद यही वजह है कि एक्शन के शौक़ीन लोगों को आज के दौर की एक्शन फ़िल्में देख कर वो मज़ा नहीं आता.