90s के दौर में शायद ही कोई ऐसा बच्चा रहा होगा जिसे 'शक्तिमान' पसंद न हो. बुराई का अंत कर अच्छाई का सन्देश देने वाला 'शक्तिमान' सचमुच में उस दौर में हमारे लिए किसी सुपरहीरो से कम नहीं था. सुपरमैन, बैटमैन और स्पाइडरमैन ये सब तो विदेशियों के चोंचले हैं. हम हिन्दुस्तानियों के लिए तो आज भी सुपरहीरो अपना 'शक्तिमान' ही है.

Source: youtube

गंगाधर, गीता विश्वास, तमराज किल्विष, डॉ. जैकाल, महागुरु और डॉ. विश्वास 'शक्तिमान' सीरियल के ये वो किरदार हैं जिन्हें शायद ही हम कभी भूल पाएं. उस दौर में इस शो को लेकर दीवानगी ऐसी थी कि शक्तिमान वाला लंच बॉक्स, पानी की बोतल और शक्तिमान का कॉस्ट्यूम भी मार्केट में मिलने लगा था. शक्तिमान को लेकर बच्चों के क्रेज का अपना अलग ही लेवल था.

Source: wirally.com

सुना है कि 'शक्तिमान' एक बार फिर हमारी बचपन की यादों को ताज़ा करने आ रहा है. इसकी जानकारी ख़ुद 'शक्तिमान' यानि मुकेश खन्ना ने दी है.

तो हो जाईये तैयार

मुकेश खन्ना ने कहा कि 'दर्शकों को अब भी शक्तिमान सीरियल के लिए इंतज़ार करना पड़ेगा, मैं इस बार शक्तिमान सीरियल के ज्ञानवर्धक भाग को लेकर आ रहा हूं'.

दरअसल, मुकेश खन्ना इस बार अपने चाहने वालों के लिए इस सीरियल के एक फ़ेमस डायलॉग 'सॉरी शक्तिमान' नाम से ख़ास प्रोग्राम लेकर आ रहे हैं. शक्तिमान और पंडित गंगाधर शास्त्री की ये जोड़ी आज की युवा पीढ़ी को कई तरह की ज्ञानवर्धक बातें बताने वाले हैं.

शक्तिमान दूरदर्शन पर 13 सितम्बर 1997 को शुरू हुआ था और 27 मार्च 2005 को इसका आख़िरी एपिसोड दिखाया गया था. इस सीरियल ने 8 साल से ज़्यादा समय तक दर्शकों के दिलों पर राज किया था.

Source: amarujala

ये तो समय ही बताएगा कि 'सॉरी शक्तिमान' भी लोगों के बीच 'शक्तिमान' की तरह ही पॉपुलर हो पता है कि नहीं.