बॉलीवुड में #MeToo मूवमेंट की शुरुआत तनुश्री दत्ता के स्टेटमेंट के बाद हुई थी.

Source: TheNews

इसके तहत बहुत सी अभिनेत्रियां आई, जिन्होंने खुलकर तनु का साथ दिया और बॉलीवुड के कई काले चेहरे उजागर किये.

बॉलीवुड के बाद अब मलयालम फ़िल्म इंडस्ट्री पर भी गंभीर आरोप लगाए जा रहे हैं और इस मुद्दे पर अपनी आवाज़ बुलंद की है एक्ट्रेस कनी कुश्रुती ने. अभिनेत्री ने मलायम सिनेमा के मेकर्स पर सेक्सुअल डिमांड जैसे गंभीर और शर्मनाक इल्ज़ाम लगाए हैं. यही नहीं, कनी ने फ़िल्म इंडस्ट्री छोड़ने की वजह भी इसे ही बताया है.

रिपोट्स के अनुसार, एक्ट्रेस का कहना है कि फ़िल्म मेकर्स ने पहले उसके सामने सेक्सुअल डिमांड रखी और उसके न कहने पर उन्होंने उसकी मां को अप्रोच किया, साथ ही कनी को मनाने के लिये कहा. वहीं कनी ने हालातों से समझौत न करते हुए एक्टिंग छोड़ थियेटर जॉइन करने का फ़ैसला किया. हांलाकि, थियेटर की कमाई से कनी को ज़िंदगी गुज़ारना मुश्किल हो रहा है, लेकिन फिर भी उसने सिनेमा की ओर मुड़ कर नहीं देखा.

Source: msn

मलयालम एक्ट्रेस कनी कॉकटेल और शिखर जैसी बेहतरीन फ़िल्मों में काम कर दर्शकों के बीच अपनी ख़ास पहचान चुकी हैं. इसके अलावा उन्होंने पिसासु और बुर्मा तमिल फ़िल्में भी की हैं, लेकिन उन्हें पहचान शॉर्ट फिल्म 'मां' से मिली. कनी के साथ ही गायक चिनमई श्रीपदा से लेकर लेखक लीना मणिमेक्ला तक कई सेलिब्रिटी इस इंडस्ट्री के बड़े-बड़े लोगों पर यौन शोषण का आरोप लगा चुकी हैं.