बीते दिनों बॉलीवुड फ़िल्ममेकर अनुराग कश्यप पर एक्ट्रेस पायल घोष ने रेप के आरोप लगाया थे. इस मामले में एक इंटरव्यू के दौरान की गई कुछ टिप्पणियों के ख़िलाफ़ ऋचा चड्ढा ने पायल घोष के ख़िलाफ़ मानहानि का मुक़दमा दायर किया था.

Source: asianetnews

बता दें कि बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने झूठे मामले में घसीटने और उनके नाम को अपमानजनक ढंग से पेश करने के आरोप में पायल घोष के ख़िलाफ़ 1 करोड़ 10 लाख के मानहानि का दावा ठोका था. अब इस मामले में पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफ़ी मांग ली है.

Source: aajtak

इस मामले में 6 अक्टूबर को बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई होनी थी, लेकिन पायल घोष की ओर से कोई भी कोर्ट में पेश नहीं हुआ. इसके बाद अदालत ने 7 अक्टूबर के लिए मामले को टाल दिया था.  

7 अक्टूबर हुई सुनवाई के दौरान जस्टिस एके मेनन ने एक्ट्रेस के वकील नितिन सतपुते से पूछा कि, क्या वो ऋचा चड्ढा के ख़िलाफ़ अपना बयान वापस लेना चाहती हैं? इस पर एक्ट्रेस के साथ विचार-विमर्श कर वकील ने कोर्ट को बताया कि उन्हें अपने उस बयान पर पछतावा है. 

Source: ntvtelugu

पीटीआई की रिपोर्ट मुताबिक़, नितिन सतपुते ने कहा कि उनकी क्लाइंट ने ऋचा चड्ढा के बारे में ये बातें मासूमियत में कही थीं और वो ऋचा की फ़ॉलोअर हैं. वो अपना बयान वापस लेने और माफ़ी मांगने के लिए तैयार हैं. उन्हें पछतावा है और उनका इरादा किसी भी महिला को बदनाम करने का नहीं था'.  

Source: orissapost

इस बीच पायल घोष ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 'मैं किसी से माफ़ी नहीं मांग रही हूं. मैं ग़लत नहीं हूं और ना ही किसी के बारे में ग़लत बयान दिया है. मैंने बस वही कहा जो अनुराग कश्यप ने मुझे बताया. #SorryNotSorry'.  

इससे पहले भी पायल ने एक और ट्वीट कर लिखा था कि 'मेरा मिस चड्ढा के साथ कोई लेना देना नहीं है. महिला होने के नाते हमें एक-दूसरे के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा होना चाहिए. मैं जानबूझ कर उन्हें या ख़ुद को इस मामले में तकलीफ़ नहीं देना चाहती. न्याय के लिए मेरी लड़ाई सिर्फ़ मिस्टर कश्यप से है और मैं सिर्फ़ उसपर ही फ़ोकस करना चाहती हूं. दुनिया को उनका असली चेहरा देखने दें'.