Adipurush Dialogue Is Copied Form Iskcon Baba: फ़िल्म ‘आदिपुरुष’ पर लगातार विवाद बना हुआ है. हालांकि, इस फ़िल्म के डायलॉग को लेकर तो पहले से ही बवाल मचा हुआ है. लेकिन अब ये बात भी सामने आई है कि बजरंगबली का पॉपुलर डायलॉग ‘जलेगी तेरी बाप की…’ का भी मनोज मुंतशिर ने कहीं से कॉपी किया है. ये उनका ओरिजिनल नहीं है. इसको लेकर एक वीडियो सामने आया है जिससे ये बात साबित हो रही है. चलिए हम बताते हैं कि आखिर ये लाइन कहां से कॉपी की गई है-

ये भी पढ़ें: जानिए कौन हैं एक्ट्रेस तृप्ति तोरडमल, जिनके फ़िल्म ‘आदिपुरुष’ में बोल्ड सीन्स हो रहे हैं जमकर वायरल

आइए बताते हैं कि किस बाबा के प्रवचन से चुराया गया था फ़िल्म आदिपुरुष का डायलॉग (Adipurush Dialogue Is Copied Form Iskcon Baba)-

Film Adipurush Copied Dialogue: फ़िल्म आदिपुरुष ने अब तक 400 करोड़ रुपयों का बॉक्स ऑफ़िस कलेक्शन पूरा कर लिया है. लेकिन फ़िल्म की कमाई के साथ-साथ फ़िल्म को ज़िल्लत का भी सामना करना पड़ रहा है. फ़िल्म के रिलीज़ के पहले ही दिन हनुमान जी के कहे गए डायलॉग पर विवाद उठा. वो ये था-  “कपड़ा तेरे बाप का, आग तेरे बाप की, तेल तेरे बाप का, जलेगी भी तेरी बाप की“.

जिसे पॉपुलर लेखक मनोज मुंतशिर ने लिखा था. लेकिन इस फ़िल्म में ये डायलॉग बाद में कॉपीड निकला. एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसमें पता चला कि ये संवाद अमोघ लीला प्रभु (Amogh Leela Prabhu) इस्कॉन के फ़ेमस बाबा ने अपने एक प्रवचन में कहा था. देखिए वीडियो-

ये भी पढ़ें: Adipurush New Dialogues: बदल गए ‘आदिपुरुष’ के ‘छपरी टाइप’ डायलॉग्स, उन नए Dialogues को यहां पढ़ें

इस वीडियो में कहा गया है, “घी किसका- रावण का, कपड़ा किसका- रावण का, आग किस की- रावण की, जली किस की- रावण की”.

कौन हैं इस्कॉन के फ़ेमस अमोघ लीला प्रभु (Who is Amogh Lila Prabhu)

Biography of Amogh Lila Prabhu In Hindi: अमोघ लीला प्रभु का जन्म 1 जुलाई 1980 में हुआ था. उनके पिता एक RAW एजेंट थे. जिसकी वजह से अमोघ बाबा की स्कूलिंग शहर के अलग-अलग कोनों में हुई थी. लेकिन उन्होंने अपनी पढ़ाई लखनऊ से शुरू की. वो पढ़ने में बहुत अच्छे थे.

जिसके बाद उन्होंने बी-टेक की पढ़ाई की. बचपन से ही उनका अध्यात्म की तरफ़ खिचाव था. 5 साल की उम्र से ही उन्हें किताबें पढ़ने का बहुत शौक़ था. क्लास में एक बार वो गीता पढ़ रहे थे. तबसे उनमें श्री कृष्णा के प्रति आस्था जग गई.

2004 में कर चुके हैं कंपनी में काम

अमोघ लीला प्रभु ने 2004 से लेकर 2010 तक एक Software Engineer बन के कंपनी में काम किया था. उसके बाद वो ये सब छोड़कर द्वारका चले गए और अपना सारा जीवन श्री कृष्णा के चरणों में रख दिया.

जी हां, इनके ही प्रवचन से कॉपी हुआ था फ़िल्म ‘आदिपुरुष’ का डायलॉग.