'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे', 'चांदनी', 'सिलसिला' जैसी कई सुपरहिट फ़िल्में यशराज फ़िल्म्स(YRF) ने अपने बैनर तले बनाई हैं. लेकिन क्या कभी आपने सोचा है इन फ़िल्मों के बनने की क्या स्टोरी थी, इनसे जुड़े पोस्टर-कॉस्ट्यूम्स कैसे थे. अगर कुल मिलाकर इन क्लासिक फ़िल्मों का इतिहास एक ही जगह जानने को मिले तो कैसा होगा?

यकीनन किसी मूवी लवर के लिए तो ये किसी तोहफ़े से कम न होगा. ये सब आपको भविष्य में एक म्यूज़ियम में देखने को देखने को मिल सकता है. ख़बर आई है कि यशराज फ़िल्म्स के चेयरमैन आदित्य चोपड़ा अपने बैनर तले बनी सभी फ़िल्मों के इतिहास से जुड़ा एक म्यूज़ियम बनाने की प्लानिंग कर रहे हैं.

Yash Raj Films
Source: dtnext

Hindustantimes में छपी ख़बर के मुताबिक, आदित्य चोपड़ा अपने पिता यश चोपड़ा की 88वीं जयंती(27 दिसंबर) पर इस संग्रहालय को बनाने की घोषणा कर सकते हैं. इसी दिन वो YRF के इंडस्ट्री में 50 साल पूरा होने का जश्न भी मनाएंगे.

yash chopra
Source: indiatvnews

ख़बर के अनुसार, ‘हां ये बिलकुल सच है, यश जी की 88वीं जयंती पर इस म्यूज़ियम के बनाने के प्लान की घोषणा की जा सकती है. इस म्यूज़ियम में YRF के बैनर तले बनी सभी फ़िल्मों का इतिहास आपको जानने को मिलेगा. आदित्य चोपड़ा काफ़ी समय से ऐसा संग्रहालय बनाने की सोच रहे थे. ये उन्हीं का सपना है.’

Source: wikipedia

ये म्यूज़ियम बहुत ही भव्य होगा. इसे लॉस एंजेलिस के Fox Lot म्यूज़ियम की तर्ज पर बनाया जा सकता है. इस म्यूज़ियम में भी YRF के बैनर तले बनी सभी फ़िल्मों के पोस्टर, बैनर, कॉस्टयूम, फ़ोटो, वीडियो मतलब उनसे जुड़ा पूरा इतिहास होगा. इन्हें देख कर दर्शकों की उन फ़िल्मों से जुड़ी उनकी यादें ताज़ा हो जाएंगी. ये आम जनता को YRF की विरासत को जानने का मौक़ा देगा.

रिपोर्ट के अनुसार, इसे शुरू होने में लगभग 2 साल लग सकते हैं. अगर ऐसा हो जाता है तो ये बॉलीवुड का पहला फ़िल्मों को डेडिकेटेड म्यूज़ियम होगा.

Entertainment के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.